Internet kya hai internet kaise kaam karta hai

Internet kya hai internet kaise kaam karta hai
Internet kya hai internet kaise kaam karta hai

Internet kya hai internet kaise kaam karta hai ?

 नमस्कार दोस्तों आज मैं आपसे बात करने वाला हूं इंटरनेट के बारे में इंटरनेट क्या है और इंटरनेट काम कैसे करता है,

सही जानकारी में आपको इस आर्टिकल के माध्यम से आपको देने वाला हूं तो आइए जानते हैं कि इंटरनेट क्या है और इंटरनेट आखिर काम कैसे करता है,

और इंटरनेट की सारी जानकारी आपको इस आर्टिकल में मिल जाएगी तो आइए शुरू करते हैं और इंटरनेट कैसे काम करता है इंटरनेट को किसने बनाया.

 Internet kya hai

 इंटरनेट जिसे हम अंतर जाल के नाम से भी जानते हैं और अंतर जाल के अंदर एक दूसरे से सब कुछ मिला होता है,

इंटरनेट के अंदर वेबसाइट एक दूसरे से जुड़े हुए रहते हैं जो भी वीडियो देखते हैं इंटरनेट पर जो भी आर्टिकल पढ़ते हैं जो भी आप काम करते हैं वह सब इंटरनेट पर हो रहा है,

चाहे सोशल मीडिया कि बात हो चाहे वीडियोग्राफी और फोटोग्राफी या फिर किसी भी तरीके की आजकल सभी कुछ इंटरनेट पर हो रहा है,

इंटरनेट अंतर जाल के रूप में फैल चुका है और एक दूसरे से जुड़ चुका है इसे ही हम इंटरनेट कहते हैं

और अंतर जाल जो कि एक दूसरे से जुड़ जाना उसे अंतरजाल कहते हैं इस जाल के अंदर काफी सारी वेबसाइट इंटरनेट से जुडी हुई है ,

अंतरजाल जो कि एक जाल के समान फैला हुआ है पूरे विश्व में बिना इंटरनेट के आज हम जी ही नहीं पाते हैं इंटरनेट पर सभी चीज उपलब्ध है जो भी आप सर्च करते हैं,

जो कुछ भी आपको जरूरत है तो सारे कोई जानकारियां internet पर है हाल ही में इंटरनेट को गूगल ने बनाया है ,

गूगल के सारे प्रोडक्ट इंटरनेट से कनेक्टेड है और डेटा का निर्माण मुख्यता गूगल नहीं किया है गूगल ने हीं internet को बनाया है सारी जानकारी सारा कुछ डाटा सेंटर सब कुछ है.

 Internet kaise kaam karta hai ?

 अब बात आती है इंटरनेट की तो इंटरनेट कुछ लोग बोलते हैं कि इंटरनेट नेटवर्क के द्वारा चलता है इंटरनेट साइबर केबल के दौरान चलता है,

कुछ लोग बोलते है satellite के द्वारा कुछ लोग बोलते हैं कि डायरेक्ट नेटवर्क से चलता है अलग-अलग तरीके से लोग बोलते हैं,

लेकिन सच्चाई उनको मालूम नहीं होती है तो मैं आपको सच्चाई बताने वाला हूँ कि internet काम कैसे करता है इंटरनेट की इंफॉर्मेशन आपको मिलने वाली है,

किसके द्वारा इंटरनेट चलता है यह बात सच नहीं है इंटरनेट को हम सेटेलाइट से भी चला सकते हैं

लेकिन अगर हम इंटरनेट को सेटेलाइट से चलाएंगे तो हमें खर्चा ज्यादा उठाना होता है क्योंकि जो डाटा सेंटर है या फिर कोई व्यक्ति कहीं से भी internet यूज कर रहा है,

तो हम इंटरनेट को अगर सेटेलाइट से चलाएंगे तो जो आप डाटा ले रहे हैं इंटरनेट से तो उसको data को यात्रा करने में बहुत ज्यादा समय लगेगा,

और इंटरनेट धीरे से काम करेगा और खपत भी ज्यादा होगी अगर हम इंटरनेट को उपयोग करेंगे सेटेलाइट से लेकिन सेटेलाइट से इंटरनेट को चलाना आसान नहीं है

हालांकि इंटरनेट सेटेलाइट के माध्यम से भी चलाया जाता है लेकिन सामान्यता इंटरनेट को सेटेलाइट के द्वारा नहीं चलाया जा सकता है,

और प्रश्न यह आता है कि आखिर इंटरनेट चलता कैसे है तो मैं आपको बता दूं कि जो हम इंटरनेट के उपयोग कर रहे हैं और उपयोग करते हैं वह सारा इंटरनेट चलता है

ऑप्टिकल फाइबर केबल के द्वारा जो कि पूरी दुनिया में बिछी हुई ऑप्टिकल फाइबर केबल इन ऑप्टिकल फाइबर के द्वारा इंटरनेट चलता है,

और पूरे देश में सारे देशों में एक दूसरे देशों से सारा कनेक्शन होता है जो समुद्र के अंदर ऑप्टिकल फाइबर केबल इस को बिछाया जाता है उसके बाद internet काम करता है

Also Read – Processar kya hai ?

औरनेट चलाया जाता है इंटरनेट चलाने के लिए ऑप्टिकल फाइबर का होना बहुत ज्यादा जरूरी होता है वह ऑप्टिकल फाइबर केबल के माध्यम से ही हम इंटरनेट का उपयोग कर पाते हैं,

और सारा डाटा डाटा सेंटर है वहां से सारा डाटा इंटरनेट के माध्यम से अपने फोन में ऑप्टिकल फाइबर केबल के द्वारा हमारे फोन में आ जाता है.

Internet kya hai internet kaise kaam karta hai
Internet kya hai internet kaise kaam karta hai

 डाटा सेंटर क्या है –

 डाटा सेंटर एक ऐसा संस्थान है जहां पर केवल डेटा रहता है एक ऐसा डाटा सेंटर गूगल ने बनाया है कि उसके अंदर जो सारा डाटा है,

जो भी हम वीडियोस देख पा रहे हैं जो भी हम सारा काम करते हैं गूगल के ऊपर जो भी प्रोडक्ट गूगल के कुछ सारा का सारा डाटा गूगल के अंदर ही समाहित है,

और उसका एक डाटा सेंटर गूगल ने बनाया है उस सेंटर के अंदर सारा डाटा जो गूगल ड्राइव है और भी गूगल की सारे प्लेटफार्म से उनका सारा डाटा गूगल डाटा सेंटर के अंदर उपलब्ध है,

तो यही data सेंटर है और यह डाटा सेंटर गूगल के द्वारा ही बनाया गया है

 गूगल के सारे प्रोडक्ट के लिए और जो भी प्रोडक्ट और प्लेटफार्म गूगल के आते हैं, Internet kya hai internet kaise kaam karta hai

उन सभी के डाटा को संचित करने के लिए एक डाटा सेंटर बनाया गया है गूगल के द्वारा, और जो भी यूट्यूब की वीडियो है रहते हैं

 वह सारी की सारी वीडियोस आप गूगल के डाटा सेंटर में से आते है और उन वीडियोस खेल देखने के लिए हम डाटा सेंटर को हमारा फोन सिगनल भेजता है,

और उसके बाद हम उस वीडियो को एक्सेस कर पाते हैं,

Data Center का Internet मे –

 अगर हम हम बात करें डाटा सेंटर के योगदान की तो पूरी दुनिया में गूगल का इस्तेमाल किया जा रहा है जो भी हम सर्च करते हैं,

गूगल के ऊपर, जो भी हम इंफॉर्मेशन ले पाते हैं गूगल के द्वारा, जो भी हम यूट्यूब पर वीडियो देखते हैं, गूगल ड्राइव के अंदर फोटोस को वीडियोस को सेव करते हैं,

और भी काफी सारे और बहुत सारे प्लेटफार्म से गूगल का यह सारा का सारा डाटा समाहित है गूगल डाटा सेंटर के अंदर तो इंटरनेट को चलाने में गूगल डाटा सेंटर का सबसे बड़ा योगदान है,

और जो वेबसाइट रहती हैं और उन वेबसाइट की होस्टिंग जहां पर रहती है वह डाटा सेंटर अलग होते हैं और यह गूगल का डाटा सेंटर है वह अलग रहता है.

आखिर इंटरनेट काम करता कैसे है ?

 अगर हम बात करें इंटरनेट के काम करने की तो इसके लिए एक बहुत है लंबी प्रोसेस है जो कि मैं आपको आगे बताने वाला हूं,

तो आइए जानते हैं कि आखिर इंटरनेट काम करता कैसे हैं कोई भी इंफॉर्मेशन हम कैसे ले पाते हैं इंटरनेट से,

 जैसे ही हम गूगल के अंदर कुछ सर्च करते हैं या कोई यूट्यूब पर वीडियो देखते हैं तो सबसे पहले यह हमारा फोन सिगनल भेजता है,

जो भी हम यूट्यूब को के ऊपर वीडियो देखना चाहते हैं सबसे पहले क्या होता है कि हमारा फोन सिगनल भेजता है,

गूगल डाटा सेंटर के लिए अब यह गूगल का डाटा सेंटर जो है वह बहुत दूर अमेरिका में स्थापित किया गया है,

और भारत से इसको ऑप्टिकल फाइबर केबल के द्वारा या सिग्नल जाता है और प्राप्त होता है,

हमारे फोन के अंदर और इस प्रक्रिया को होने में बहुत ज्यादा समय नहीं लगता है बहुत कम मिली सेकंड के अंदर यह काम हो जाता है,

Internet kya hai internet kaise kaam karta hai

भले ही वो डाटा सेंटर कहीं और कितनी ही दूर स्थापित हो,

यह सब होने के बाद हमारा जो सिग्नल है वह समुद्र के अंदर ऑप्टिकल फाइबर से होकर जाता है और वहां से उस वीडियो को अपना आईपी एड्रेस दिखाने के बाद वहां पर एक्सेस मिल जाता है,

और उसके बाद वह वीडियो हमारे फोन के अंदर दोबारा हम अपने फोन में देख पाते हैं.

emka.news

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here