आर्टिफीसियल इंटेलिजेंस क्या है और ये कैसे काम करती है? 2023

आर्टिफीसियल इंटेलिजेंस क्या है और ये कैसे काम करती है?, आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस in Hindi, आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस कोर्स, कृत्रिम बुद्धि उदाहरण, आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस in English,

आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस क्या होता है और यह कैसे काम करता है अगर आप भी इस टॉपिक को इंटरनेट पर सर्च कर रहे हैं तो हम आपको इसके बारे में विस्तार पूर्वक जानकारी देंगे इसलिए आर्टिकल को पूरा पढ़े तभी जाकर आपको पूरी बात समझ में आएगी

कंप्यूटर के दिन में दुनिया के जी के साथ बदल रही है आज कंप्यूटर भी इंसान की तरह सोच समझ सकता है और इंसानों की तरह काम भी कर सकता है 

यही वजह है कि आज एक नया शब्द काफी चर्चा का विषय बना हुआ है जिसे हम लोग आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस करते हैं इसके माध्यम से कोई भी काम इंसान की तरह कंप्यूटर करता है और इंसानों के मुकाबले काफी कम समय में वह काम को पूरा करके देता है 

यही कारण है दुनिया के जितने भी विकसित और विकासशील देश है वह आर्टिफिशियल का इस्तेमाल तेजी के साथ कर रहे हैं I 

ताकि देश को उन्नत और विकसित बनाया जा सके ऐसे में आपके मन में सवाल आता होगा कि आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस इन होता क्या है और यह काम कैसे करता है अगर आप इसके बारे में कुछ भी नहीं जानते हैं तो आर्टिकल को आखिर तक पढ़े ही जानते हैं

आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस क्या है ?

आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस या AI एक बौद्धिक क्षमता होता है जिसे आर्टिफिशियल तरीके से विकसित किया जाता है AI पूरा नाम आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस होता है अगर हम इसे सरल भाषा में समझे तो आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस एक प्रकार की मशीन प्रणाली होती है जिसमें सोचने और समझने की शक्ति बिल्कुल इंसानों की तरह होती है

अगर हम एक प्रकार से कहे तो आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस इंसानों का एक प्रतिबिंब है तो यह कहना गलत नहीं होगा क्योंकि दुनिया के आज तमाम देश आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस का इस्तेमाल कर रहे हैं

क्योंकि इसमें सोचने और काम करने की क्षमता मनुष्य के समान होती है I आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस को रोबोट टेक्नोलॉजी भी कहा जाता है हिंदी में आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस को मानव निर्मित दिमाग भी कहा जाता है I 

उदाहरण के तौर पर अगर आपको कहीं भी भारत के किसी भी कोने में जाना है और आपको वहां का एड्रेस मालूम नहीं है तो आप गूगल मैप से आसानी से वहां पर पहुंच सकते हैं

ऐसे में गूगल मैप एक प्रकार का आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस होता है जिसके माध्यम से आप सही लोकेशन पर पहुंच जाते हैं तभी जाकर आप गूगल के बताए गए रास्ते के माध्यम से भारत के किसी भी कोने में पहुंच सकते हैं I 

Virtual Reality क्या है और कैसे काम करता है

आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस का आविष्कार कब हुआ

 John McCarthy के द्वारा ही आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस का आविष्कार 1950 मे किया गया था John McCarthy को आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस जनक कहा जाता है

John McCarthy अमेरिका का रहने वाला निवासी है कंप्यूटर साइंटिस्ट के साथ-साथ एक शोधकर्ता भी थे. John McCarthy ने अमेरिका में Dartmouth नाम के कॉलेज की कार्यशाला में 1956 के दौरान भाग लिया था. जहां पर उसने आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस के बारे में अपने विचार लोगों के सामने प्रस्तुत किए I 

आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस काम कैसे करता है

आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस निम्नलिखित तरीके से काम करता है जिसका विवरण हम आपको नीचे बिंदु अनुसार देंगे आइए जानते हैं-

आर्टिफीसियल इंटेलिजेंस क्या है और ये कैसे काम करती है?
आर्टिफीसियल इंटेलिजेंस क्या है और ये कैसे काम करती है?

Learning :-

इस प्रकार की प्रक्रिया में सबसे पहले उपकरण के अंदर आवश्यक जानकारी अपलोड की जाती है उदाहरण के तौर पर आप लोगों ने दुनिया के कई देशों में बिना ड्राइवर के गाड़ी चलते हुए देखा ऐसा तभी हो पाता है जब गाड़ी के अंदर विशेष प्रकार के दिशा निर्देश अपलोड किए जाते हैं तभी गाड़ी बिना ड्राइवर के सड़कों पर चल पाती है लर्निंग का मतलब होता है कि उपकरण को एजुकेटेड करना तभी जाकर वह मनुष्य की तरह काम कर पाएगा I 

Reasoning:-

इस प्रक्रिया के अंतर्गत इस बात का निदान होता है कि उपकरण जो भी प्रणाम यहां पर दिखायेगा वह नियम के अनुसार होगा और नियम जैसा उसे कहेगा वैसा ही रिजल्ट आपके सामने वह लेकर आएगा I 

Self-Correction:-  

इसके अंतर्गत एल्गोरिदम को लगातार ठीक करने के लिए डिजाइन किया गया है ताकि वह सटीक परिणाम दिखा सके उदाहरण के तौर पर आप लोगों को मालूम होगा कि गूगल कंपनी के द्वारा गूगल AI लॉन्च किया गया है जो एक प्रकार का आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस है इसके एल्गोरिदम को लगातार ठीक किया जा रहा है ताकि वह सटीक जवाब परिणाम दिखा सके I 

Chat GPT क्या है, क्या यह Google को टक्कर देगा | क्या Chat GPT लिखकर देगा सारे सवालों के जवाब

आर्टिफीसियल इंटेलिजेंस के उदाहरण 

  • Apple कंपनी की Virtual Assistant)
  • Voice Search 
  • Google Map 
  • Tesla Motor 

आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस के प्रकार 

क्षमता के आधार पर आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस दो प्रकार के होते हैं जिसका विवरण हम आपको नीचे ही बिंदु अनुसार देंगे आइए जानते – 

 Weak Artificial Intelligence

Weak Artificial Intelligence को Narrow AI भी कहते हैं क्योंकि किसी भी ऐसे समर्पित काम को या काफी ही चतुराई के साथ करता है आज की तारीख में इसका इस्तेमाल विशेष प्रकार के कामों को करने के लिए किया जा रहा है इसके माध्यम से दूसरे प्रकार के काम नहीं कर सकते हैंउदाहरण के लिए  speech Recognition, Image Recognition ऑटोमैटिक कारें और वीडियो गेम इत्यादि

Strong Artificial Intelligence

Strong Artificial intelligence को सामान्य आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस कहा जाता है इसके पीछे की वजह है कि यह सभी काम मनुष्य की तरह कुशलतापूर्वक करता है और उसमें सोचने समझने की शक्ति बिल्कुल इंसानों की तरह होती है आज की तारीख में इस प्रणाली का इस्तेमाल किसी भी क्षेत्र में नहीं किया जा रहा है

क्योंकि अभी तक वैज्ञानिकों ने इस क्षेत्र में उतनी सफलता प्राप्त नहीं कर पाया जितनी सफलता प्राप्त की चाहिए आने वाले भविष्य में इस में काफी बदलाव देखने को मिलेंगे ऐसे में भविष्य में आने वाले दिनों में ऐसे कई उपकरण का निर्माण किया जाएगा जो बिल्कुल इंसान की तरह ही काम कर सके और जिसमें की सोचने की शक्ति और सीमा इंसान से बिल्कुल मिलती-जुलती हो I 

कार्यक्षमता  अनुसार आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस कितने प्रकार के होते हैं

कार्य क्षमता के अनुसार आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस चार प्रकार के होते हैं जिसका विवरण हम आपको नीचे बिंदु शादी में जो इस प्रकार है आइए जानते- 

Purely Reactive Artificial Intelligence

यह पूरी तरह से प्रतिक्रियात्मक होते हैं. इसका अर्थ है कि Purely Reactive Artificial intelligence इसके माध्यम से आने वाले भविष्य में किस प्रकार की घटना घटी तो की है उसके लिए प्रणाली को विकसित करना ताकि भविष्य को आसानी से देखा जा सके हालांकि इसमें अभी लगातार काम किया जा रहा है और आने वाले दिनों में इसका इस्तेमाल देखने को मिल सकता है

Brain Theory Artificial Intelligence

आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस के बारे में बात करें तो एक प्रकार से कहे कि इसके माध्यम से ऐसे उपकरण बनाएंगे जिसकी सोचने समझने की शक्ति बिल्कुल इंसानों की तरह होगी जिस प्रकार इंसान भावना के साथ अपने हाव-भाव को बदलता है

ठीक उसी प्रकार या भी इंसानों की तरह आपने भावना के अनुसार काम करेगा हालांकि अभी एक काल्पनिक विचारधारा है इस पर अभी तक काम किया जा रहा है क्योंकि आज की तारीख में ऐसा कोई उपकरण नहीं बनाया गया है जो इंसानों की तरह भावना के मुताबिक काम कर सके लेकिन भविष्य में ऐसे उपकरण बनाए जा सकते हैं क्योंकि दुनिया तेजी के साथ बदल रही है I 

 Self Conscious Artificial Intelligence

अगर हम self conscious Artificial Intelligence के बारे में चर्चा करें तो  इसे हम लोग self awareness के नाम से भी जानते हैं इस प्रकार के आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस में भावना चेतना आत्मा जागृता जैसे गुण होंगे हालांकि आज इस प्रकार के आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस उपलब्ध नहीं है और वैज्ञानिकों के द्वारा इस पर तेजी के साथ काम किया जा रहा है किसलिए भविष्य में इसका इस्तेमाल देखने को मिलेगा

Limited Memory Artificial Intelligence इस प्रकार का इंटेलिजेंस होगा जिसमें पिछले अनुभव से अपराध घाटा को कुछ वक्त के लिए स्कोकाक रखा जाएगा ताकि भविष्य में अगर किसी को data की जरूरत पड़े तो आसानी से उसे रिकवर कर सके I 

FTP क्या है ? इसका इस्तेमाल कैसे करते है 2023

 आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस के उपयोग

आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस के उपयोग के निम्नलिखित प्रकार के क्षेत्रों में किया जाता है जिसका विवरण हम आपको नीचे बिंदु अनुसार देंगे जो इस प्रकार है- 

  •  कंप्यूटर गेमिंग के क्षेत्र में
  • मशीन लर्निंग 
  • ऑटोमेशन टूल में
  • रोबोट के क्षेत्र में
  • मशीन विजन के क्षेत्र में
  • ऑटोमेटिक गाड़ियां
  • कंप्यूटर में बोली पहचानने के लिए

आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस के फायदे

  • इंसानी गलती को कम करना
  • Work को काफी तेजी और कम समय में पूरा करना
  • 24 घंटे काम करते रहना
  • इंसान के कामों को आसान बनाना
  • लगातार परिणाम देते रहना 

आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस के नुकसान

  • Artificial Intelligence  बनाना काफी महंगा 
  • आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस आने के कारण देश और दुनिया मे बेरोजगारी की समस्या बढ़ गई है
  • इंसान आलसी होते जा रहे हैं 
  • आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस अगर गलत हाथों में लग जाता है तो मनुष्य के लिए घातक सिद्ध हो सकता है I 

[sp_easyaccordion id=”33942″]

Share On
Emka News
Emka News

Emka News पर अब आपको फाइनेंस News & Updates, बागेश्वर धाम के News & Updates और जॉब्स के Updates कि जानकारी आपको दीं जाएगी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *