Bageshwar Dham: क्या है हनुमान जी के आठ गुण, जानिए बागेश्वर धाम सरकार से

Emka News
4 Min Read
हनुमान जी के आठ गुण

Bageshwar Dham: क्या है हनुमान जी के आठ गुण, जानिए बागेश्वर धाम सरकार से

inline single

बागेश्वर धाम के महंत पंडित धीरेन्द्र कृष्ण शास्त्री जी हनुमान जी के ही उपासक है वह कहते है की वो जो कुछ भी करते है या कहते है सब हनुमान जी की कृपा से ही करते है।

वैसे ये तो हम सबको पता है की हनुमान जी हर संकट को हरने वाले भगवान उनके बारे मे तो यह कहा भी जाता है की ” संकट कटे मिटे सब पीड़ा, जो सुमरे हनुमत बलबीरा “ जिसका मतलब है की हनुमान जी ऐसे भगवान है जिनका सिर्फ नाम का स्मरण करने से ही सभी संकट और पीड़ाए मिट जाते है,

लेकिन क्या आपको भगवान हनुमान जी के आठ गुणों के बारे मे पता है नहीं तो चलिए जानते है हनुमान जी के आठ गुणों के बारे मे जिसे जानने के बाद आपका जीवन पूरी तरह से बदल जायेगा तो चलिए जानते है हनुमान जी के आठ गुण स्वयं पंडित धीरेन्द्र कृष्ण शास्त्री के श्रीमुख से।

inline single

हनुमान जी के आठ गुण इस प्रकार है

1.निराभिमानता – हनुमान जी भगवान का पहला गुन्हा निराभिमानता जिसका मतलब किसी भी प्रकार का अभिमान ना होना हमारे भगवान हनुमान जी अभिमान से रहित है शास्त्री ने कहा की वह बहुत उदार चरित्र वाले भगवान है।

2. संवाद कौशल – धीरेन्द्र शास्त्री जी ने बताया की उनका दूसरा गुण संवाद कौशल वह संवाद करने मे बहुत ही निपुण है।

inline single

3.आदर्शवान – हनुमान जी महाराज आदर्शवां है जिसमे मतलब है वह हर किसी का बहुत सम्मान करते है उनके बारे कहा गया है की ” ब्रह्मा अस्त्र तेहि साधा,कपी मन कीन्ह विचार। जो ना ब्रह्मासर मानऊ,महिमा मिटाई अपार।। “

4.समस्या नहीं समाधान – धीरेन्द्र शास्त्री ने बताया की यह हनुमान जी का सबसे प्यारा गुण है उनके पास कोई समस्या नहीं सिर्फ समाधान है 

inline single

5. साहस – हनुमान जी साहसीवीर है, इसलिए उनको महावीर भी कहते है क्यूंकि हनुमान जी महाराज कभी कोई युद्ध हारे नहीं है इसलिए उन्हें महावीर कहा जाता है

6.चरित्रवान – बागेश्वर सरकार ने हनुमान जी महाराज का छटवां गुण है चरित्रवान बताया और कहा कहा की हनुमान जी के चरित्र से हमें सीख लेनी चाहिए।

inline single

7. विनम्रता – हनुमान जी का सातवां गुण है विनम्रता हनुमान जी के पास इतना बाल और तेज ब लेकिन इसके बाद भी वह अपन विनम्र स्वाभाव को छोड़ते है

हनुमान जी के आठ गुण
हनुमान जी के आठ गुण

8.सही योजना मूल्य और प्रतिबद्धता – बागेश्वर धाम सरकार मे अनुसार यह सबसे अंतिम और अद्धभुत गुण है हनुमान जी पहले योजना बनाते है फिर उस पर पूरी तरह अम्ल करके उस पर विजय हासिल करते है यह उनका अनित गुण है।

inline single

Bageshwar Dham: उदयपुर मे भड़काऊ ब्यान देने के संज्ञान मे बागेश्वर धाम के पिठाधिश्वर पंडित धीरेन्द्र कृष्ण शास्त्री पर हुयी FIR दर्ज, पढ़िए क्या है पूरी न्यूज़ 

Bageshwar Dham: उदयपुर मे पंडित धीरेन्द्र कृष्ण शास्त्री के खिलाफ दर्ज FIR के विरोध मे लोगो ने सड़को पर किया प्रदर्शन
Share This Article
Follow:
Emka News पर अब आपको फाइनेंस News & Updates, बागेश्वर धाम के News & Updates और जॉब्स के Updates कि जानकारी आपको दीं जाएगी.
Leave a comment