Google Topics क्या है कैसे काम करता है Privacy Sandbox

आपने Cookies का नाम तो सुना ही होगा, Google के नए Update के अनुसार, Google ने Cookies को हटाकर Google TOPICS को जोड़ दिया है, Topics को जानने से पहले अगर आप नहीं जानते है Cookies क्या है तो आइये जानते है.

Google TOPICS क्या है कैसे काम करता है पूरी जानकारी

आज हम बिस्तार मे बात करना वाले है Google के Upcoming Feature “Google TOPICS” के बारे, अब Cookies का समय जाने वाला है और Google Topics आने वाला है,

Google TOPICS से User कि जो जानकारी Track हो रही है Cookies से वह अब हटने वाला है और TOPICS कि मदद से अब User कि Privacy को नुक्सान नहीं पहुंचेगा.

Cookies क्या है ?

अपने Cookies का नाम तो internet पक़र सुना ही होगा, या फिर Cookies को Browsers के अंदर देखा होगा, या Websites को Visit करते वक़्त Allow Cookies का Option देखा होगा,

इसे भी पड़े – Google Drive Storage को Clear कैसे करें

सरल तरिके से बात करें तो Cookies एक प्रकार कि Memory जो User को Track करके Google को बताती और Google उन Users को उनके Interest के हिसाब से Ads दिखाता है, जिससे Google और Website Owner दोनों की मौटी कमाई होती है,

Cookies कैसे काम करता है ?

जब आप किसी Website पर Visit करते हो तो अगर उस Website मे Cookies enable है तो एक छोटी सि file या Cookies आपके Browser मे Save हो जाती है,

उसके बाद आप जिस भी website या Shoppings Website पर जाते हो तो इसकी Tracking वह Cookies की रूप मे Save हो जाती है या आपकी Tracking होती रहती है,

उसके बाद ये पूरा data, Google की साथ Share होता है, उसके बाद जब आप उस Website पर फिरसे जाते हो तो Google आपको आपके Interest कि Ads दिखाता है,

और अगर वो Person Ads पर Click करता है तो इससे google को और Website Owner कि कमाई होती है,

आप कब कहाँ पर गए, क्या ख़रीदा ये सारी Information Cookies मे File की रूप मे Save हो जाती है, और ये पूरी Information Ads Company को दे दी जाती है,

इसीलिए Google ने सोचा कि User को Track ना करते हुए भी जो information हमें चाहिए है वो ले लें, बिना Cookies की.

Google Topics क्या है कैसे काम करता है
Google Topics क्या है कैसे काम करता है

Google User को Track करेगा क्योंकि अगर Track नहीं करेगा तो Google और Site Owner पैसा नहीं कमा पाएंगे, Google का पहले Concept था FLocs जिसको Google ने Dump कर दिया है, इसके जानकारी नीचे दीं गई है,

हालहि मे Google ने Cookies को हटकर Google TOPICS को Launch करने वाला है, Google Topics का Concept भी Cookies की जैसा ही है लेकिन Google ने थोड़ा Smart तरिके से काम किया है, आइये जानते Google TOPICS की बारे मे,

Google Topics क्या है ?

Google Topics Advertisement के लिए है यह एक प्रकार का बिना किसी User कि Tracking किये हुए User के Interest based Ads Run करने का एक सबसे अच्छा तरीका है,

जिससे User कि Tracking नहीं कि जाएगी बस Topics के द्वारा Web Page पर Interest Based Ads दिखाए जायेगे,

Google Topics क्या है कैसे काम करता है
Google Topics क्या है कैसे काम करता है

जो Google का Topics है वो Browsers की Level पर work करने वाले है , 15 दिनों मे Topics मे जब आप किसी भी website को visit करोगे तो उनके आधार पर Browser किसी ख़ास Topic मे अलग कर देगा,

Google Topics कब Launch होगा ?

Google Topics अभी Launch नहीं हुआ, इस पर Google अभी काम कर रहा है, Advertiser से Feedback लेने के बाद, और सभी काम पूर्ण होने के बाद ये Google TOPICS launch किया जायेगा,

उदाहरण – अगर मान लीजिये कि आपको मनाली जाना है तो उसके Regarding आप Google पर Search करोगे, उसके बाद Google आपको Website कि List दिखायेगा,

तो आपका Browser आपको Travel, Sport, Restorant, Shopping आदि कि Topics मे जोड़ देगा, यह पूरी जानकारी आपके Browser मे रहेगी यह जानकारी किसी की साथ Share नहीं कि जाएगी,

Google Topics क्या है कैसे काम करता है
Google Topics क्या है कैसे काम करता है

अब जब आप किसी Website पर visit करोगे तो उस website पर स्तिथ Adsense को 3 Topics बताएगा, ये 3 Topics पिछले 3-4 Week कि Browsing से बताएगा,

Adsense Code के लिए ये Topics दिया जायेगा ताकि Interest based ads दिखाई देगी,

1 – पहला Topic उसी हफ्ते कि Browsing से देगा,

2 – दूसरा Topic उससे पहले वाले 1 हफ्ते वाली Browsing से देगा,

3 – तीसरा Topic, 2 हफ्ते पुरानी ब्राउसिंगिं से देगा,

Google Topics क्या है कैसे काम करता है
Google Topics क्या है कैसे काम करता है

मतलब हर एक Week से 1 TOPIC देगा, मतलब TOPICS पूरी History नहीं देगा सिर्फ Topics देगा ताकि Interest based Ads Run हो,

Topics कि Expiry

आपका Browser मे जो Topics रखे जायेगे वो सिर्फ 3 हफ्ते तक की रखे जायेगे उसके बाद Delete हो जायेगे, इसलिए आपका Browser सिर्फ 3 TOPICS देता है क्योंकि 3 हफ्ते तक के TOPICS रखेगा आपका Browser,

अगर कोई User उन Topics को Delete करना चाहता है तो Browser ये Options रहेगा delete करने का, मतलब अब Google TOPICS आने वाला है और Cookies का समय जाने वाला है,

Google Topics क्या है कैसे काम करता है
Google Topics क्या है कैसे काम करता है
Google Topics API

Google अभी API पर और पूरे Concept पर Work कर रहा है, सभी Testing होने के बाद ये Google Topics Launch किया जायेगा, और इसका API भी Launch होगा ताकि सभी लोग Implement कर सके. Lean in English

Google TOPICS के फायदे कौन कौन है ?

1 – User की Privacy leak नहीं होंगी,

2 – Google और Website Owner को फायदा होगा,

3 – Visiter को फायदा होगा बिना Tracking के,

4 – Cookies को हटा दिया जायेगा,

5 – User-Based Ads Run होंगी बिना Tracking के

Google TOPICS को Website मे कैसे लगाएं ?

Google के Upcoming Feature/Update Google Topics को Website मे Implement करने के लिए Official Google के द्वारा कोई जानकारी नहीं दीं गई है, क्योंकि Google Topics अभी Launch नहीं हुआ है,

Google Topics पर अभी Google काम कर रहा है, जब Launch होगा और Implement करने Process होंगी तो आपको Update कर दिया जायेगा.

इसे भी पड़े – 15 Best WordPress Plugin 2022 Website के लिए

FLoc क्या है ? कैसे काम करता था

FLoc का पूरा नाम है ? – Federated Learning of Cohorts

Cohorts का मतलब – एक ऐसे लोगो का एक Group जिसके लक्षण एक जैसे हो, या Character एक जैसे हो, हालांकि FLoc को Google ने हटा दिया है, इसका उपयोग अब नहीं किया जायेगा,

FLoc क्या है कैसे काम करता है
FLoc क्या है कैसे काम करता है

Cohorts मे Google का Concept ये था कि Google बहुत सारे Cohorts बनाएगा जिसमे User कि Browsing history, Browsing Activity, सामान को खरीदने का Pattern,

और भी अलग अलग information को Collect करेगा, और उन Cohorts को divide किया जायेगा और हर एक Cohort कि एक ID दीं जाएगी,

और जब कोई user website पर visit करेगा तो browser उस website को User कि जगह उसके Cohort कि ID दे देगा, इसलिए Browsers और Advertiser, User को Track नहीं करेंगे बल्कि users की समूह या Group को Track करेंगे

web Story Kya Hai ?

आसान भाषा मे Cookies को Browser कि जगह सीधे Website मे डाल देगा, और फिर Tracking शुरू हो जाएगी, लोगों ने इस Concept का बहिस्कार किया,

कोई भी इस Technic को Implement करने को राज़ी नहीं था इसलिए Google ने इस Technic को हटा दिया और उसके बाद Google ने TOPICS को लाने वाला है.

Faqs Google Topics क्या है कैसे काम करता है Privacy Sandbox

तो आपका Browser आपको Travel, Sport, Restorant, Shopping आदि कि Topics मे जोड़ देगा, यह पूरी जानकारी आपके Browser मे रहेगी यह जानकारी किसी की साथ Share नहीं कि जाएगी,

अब जब आप किसी Website पर visit करोगे तो उस website पर स्तिथ Adsense को 3 Topics बताएगा, ये 3 Topics पिछले 3-4 Week कि Browsing से बताएगा,

Adsense Code की लिए ये Topics दिया जायेगा ताकि Interest based ads दिखाई देगी,

1 - पहला Topic उसी हफ्ते कि Browsing से देगा,

2 - दूसरा Topic उससे पहले वाले 1 हफ्ते वाली Browsing से देगा,

3 - तीसरा Topic 2 हफ्ते पुरानी ब्राउसिंगिं से देगा,

मतलब हर एक Week से 1 TOPIC देगा, मतलब TOPICS पूरी History नहीं देगा सिर्फ Topics देगा ताकि Interest based Ads Run हो,

अपने Cookies का नाम तो internet पक़र सुना ही होगा, या फिर Cookies को Browsers के अंदर देखा होगा, या Websites को Visit करते वक़्त Allow Cookies का Option देखा होगा,

सरल तरिके से बात करें तो Cookies एक प्रकार कि Memory जो User को Track करके Google को बताती और Google उन Users को उनके Interest के हिसाब से Ads दिखाता है, जिससे Google और Website Owner दोनों की मौटी कमाई होती है,

 

जब आप किसी Website पर Visit करते हो तो अगर उस Website मे Cookies enable है तो एक छोटी सि file या Cookies आपके Browser मे Save हो जाती है,

1 - User की Privacy leak नहीं होंगी,

2 - Google और Website Owner को फायदा होगा,

3 - Visiter को फायदा होगा बिना Tracking के,

4 - Cookies को हटा दिया जायेगा,

5 - User-Based Ads Run होंगी बिना Tracking के

 

Google Topics अभी Launch नहीं हुआ, इस पर Google अभी काम कर रहा है, Advertiser से Feedback लेने के बाद, और सभी काम पूर्ण होने के बाद ये Google TOPICS launch किया जायेगा

Google के Upcoming Feature/Update Google Topics को Website मे Implement करने के लिए Official Google के द्वारा कोई जानकारी नहीं दीं गई है, क्योंकि Google Topics अभी Launch नहीं हुआ है,

Google Topics पर अभी Google काम कर रहा है, जब Launch होगा और Implement करने Process होंगी तो आपको Update कर दिया जायेगा.

 

Cohorts का मतलब - एक ऐसे लोगो का एक Group जिसके लक्षण एक जैसे हो, या Character एक जैसे हो, हालांकि FLoc को Google ने हटा दिया है, इसका उपयोग अब नहीं किया जायेगा,

Cohorts मे Google का Concept ये था कि Google बहुत सारे Cohorts बनाएगा जिसमे User कि Browsing history, Browsing Activity, सामान को खरीदने का Pattern,

और भी अलग अलग information को Collect करेगा, और उन Cohorts को divide किया जायेगा और हर एक Cohort कि एक ID दीं जाएगी

 

FLoc का पूरा नाम है ? - Federated Learning of Cohorts

 

Cohorts का मतलब - एक ऐसे लोगो का एक Group जिसके लक्षण एक जैसे हो, या Character एक जैसे हो, हालांकि FLoc को Google ने हटा दिया है, इसका उपयोग अब नहीं किया जायेगा,

Cohorts मे Google का Concept ये था कि Google बहुत सारे Cohorts बनाएगा जिसमे User कि Browsing history, Browsing Activity, सामान को खरीदने का Pattern,

और भी अलग अलग information को Collect करेगा, और उन Cohorts को divide किया जायेगा और हर एक Cohort कि एक ID दीं जाएगी,

Leave a Comment