घर वापिसी: आंध्र प्रदेश में एक गांव में दो परिवारों ने ईसाई धर्म त्याग कर सनातन धर्म में वापसी, यह गांव हिंदू गांव घोषित हुआ

Emka News
3 Min Read

आंध्र प्रदेश में कुछ साल पहले अक्सर ऐसी खबरें मिलती है जहां पर दूसरे धर्म के लोगों ने किसी भी प्रकार से लालच देकर जब बहला फुसलाकर लोगों का धर्म परिवर्तन जिसमें कोई ईसाई धर्म को अपना लेता था तो कोई ईसाई धर्म को अपना धर्म मान लेता था लेकिन इसके साथ-साथ लोगों को अब थोड़ा अनुभव होने लगा है

inline single

कि हमें अब अपने पूर्ण मूल धर्म में वापस आना होगा जिसमें अभी फिल हाल में एक बड़ा उदाहरण देखने को मिला है जहां पर आंध्र प्रदेश के अनंत पर जिले के एक गांव के दो परिवारों में एक साथ हिंदू धर्म में वापसी की। जाने क्या रही उनके घर वापसी की कहानी इस खबर में।

ईसाई धर्म का किया त्याग

प्राप्त खबर के अनुसार यह मामला आंध्र प्रदेश के आनंदपुर जिले के एक छोटे से गांव कुरकुर छोटा गांव की है,इस गांव में लगभग 150 सेघर हैं जिसमें से अधिकतल घर हिंदू धर्म के ही है लेकिन इनमें दो परिवार ऐसे थे जो ईसाइयों के मतलब कि पहले वह हिंदू थे लेकिन किसी कारण बस उन्होंने अपना धर्म बदलकर ईसाई धर्म को अपना लिया था लेकिन अब उन्हें पुनः अपनी गलती का आभास होता है और वह सनातन हिंदू धर्म में अपना वापसी कर लेते हैं।

हालांकि सनातन धर्म में घर वापसी की प्रक्रिया उनके लिए इतनी आसान नहीं रही बहुत समय से हिंदू धर्म को अपनाना चाहते थे लेकिन ऐसा नहीं हो पा रहा था लेकिन अचानक से उनकी मुलाकात एक ऐसी संस्था से होती है। इसके बाद इन दो परिवारों ने गांव के लोगों से बातचीत करके अपना हिंदू धर्म को अपना लिया।

inline single

इन दोनों इसी परिवार के लोगों ने गांव में ही स्थित एक मंदिर में यज्ञ और पूजन करवाया जहां पर उन्होंने पूरी विधि विधान के साथ पूजन करके सनातन हिंदू धर्म को अपनाया इसमें उन्होंने कई गांव के 150 लोगों को शामिल किया और वहां पर एक कार्यक्रम करके सनातन हिंदू धर्म को फिर से अपना लिया।

गाँव को किया गया हिन्दू गाँव घोषित

इन दोनों परिवारों के हिंदू धर्म में वापसी के साथ ही इसमें एक सबसे बड़ी बात यह रही की गांव के लोगों ने एक साथ मिलकर एक बोर्ड बनवाया जिसमें उन्होंने तेलुगु भाषा में लिखवाया की यह गांव हिंदू गांव हैं। उनके कहने का मतलब यह है कि इसे हिंदू गांव घोषित किया जाता है इसमें किसी भी अन्य धर्म के लोगों का स्थान नहीं है। भाई उन्होंने इस बात की चेतावनी विधि की इस गांव के अंदर किसी अन्य पंथ या धर्म के प्रचार प्रसार को पूर्णतया प्रतिबंधित किया जाता है।

inline single

इसे पढ़े – Ram Mandir Date: राम मंदिर प्राण प्रतिष्ठा कार्यक्रम का मोदी करेंगे शुभारम्भ , जानिए किन किन हस्तियों को है निमंत्रण

Share This Article
Follow:
Emka News पर अब आपको फाइनेंस News & Updates, बागेश्वर धाम के News & Updates और जॉब्स के Updates कि जानकारी आपको दीं जाएगी.
Leave a comment