Bageshwar Dham: आखिर क्यों मना किया धीरेन्द्र शास्त्री ने बिहार मे कल कथा मे आने के लिए

WhatsApp Channel Join Now
Telegram Channel Join Now

Bageshwar Dham: आखिर क्यों माना किया धीरेन्द्र शास्त्री ने बिहार मे कल कथा मे आने के लिए, जानिए क्या है पूरी खबर 

नमस्कार दोस्तों! जैसा की आपको पता है की बागेश्वर सरकार के नाम स्वागत जाने, जाने वाले पंडित धीरेन्द्र कृष्ण शास्त्री जी की कथा का शुभारम्भ पटना बिहार मे 13 मई 2023 को शुरू कर दिया गया है। आज के दिन यानि की 14 मई को कथा का प्रथम दिवस था

लेकिन कथा के अंत मे पंडित धीरेन्द्र कृष्ण शास्त्री ने खुद लोगों निवेदन करते हुए कहा की कल के दिन कम से कम लोग कथा सुनने के लिए आयेंगे सभी लोग जो जहाँ पर है वही से ही कथा को टीवी के माध्यम से सुनना है। लेकिन क्या आपको पता है की पंडित धीरेन्द्र कृष्ण शास्त्री खुद ऐसा क्यूँ कहा अगर नहीं तो सबसे पहले हमारे इस लेख को अंत तक ध्यान से जरूर पढ़े।

Bageshwar Dham: गर्मी के सफुकेशन के चलते कहा की टीवी से कथा सुने

पंडित धीरेन्द्र कृष्ण शास्त्री ने लोगों से निवेदन करते हुए घर से ही टीवी पर कथा सुनने के लिए इसलिए कहा क्यूंकि आज वहाँ पर इतनी अधिक मात्रा मे भीड़ हो गयी है की लोगों मे सफुकेशन बढ़ सकता है, पंडित धीरेन्द्र कृष्ण शास्त्री ने कहा की मुझे ऐसा आभास हो रहा है की अभी एक या दो लोगों को सफुकेशन के चलते सांस लेने बहुत दिक्कत हो रही है।

इसलिए आज की कथा को भी पंडित धीरेन्द्र कृष्ण शास्त्री ने जल्दी ही बंद करदी ताकि लोगों को और अधीक समस्या का सामना ना करना पड़े। उन्होंने कहा की हमे यही पर कथा को आज विराम कर देना चाहिए क्योंकि कथा वही जिसमे लोगों को परेशानी ना हो।

Bageshwar Dham
Bageshwar Dham: आखिर क्यों मना किया धीरेन्द्र शास्त्री ने बिहार मे कल कथा मे आने के लिए

करीब 10 लाख लोग पहुंचे कथा सुनने

नौबतपुर पटना बिहार मे हो रही पंडित धीरेन्द्र कृष्ण शास्त्री की इस कथा के पहले दिन ही लगभग 10 लाख लोग वहाँ पर कथा पंडाल के आस पास पहुंची। यह अब तक की गयी पंडित धीरेन्द्र कृष्ण शास्त्री की कथा मे सबसे अधिक लोगों के पहुंचने वाला स्थान बन गया है इससे पहले इतनी अधिक तादाद मे जनता कही भी कथा सुनने के लिए पहुंची है।

इस बीच इतनी अधिक मात्रा मे लोगों को देखकर पंडित धीरेन्द्र कृष्ण शास्त्री जी ने कहा की यहाँ पर पागल ही पागल हो गये है हर जगह लोग हो लोग दिख रहे है इसलिए परिस्थिति को देखते हुए आज की कथा को अभी विराम भी दे देना चाहिए।

कल का दिव्य दरबार भी हो सकता है निरस्त

इसी बीच पंडित धीरेन्द्र कृष्ण शास्त्री ने यह भी कह दिया है की अगर कल भी इस तरह भीड़ दरबार मे रहती है तो हो सकता है की कल दिव्य दरबार ना लगे। इस बात की पुख्ता जानकारी वह प्रेस कॉन्फ्रेंस के जरिये लोगों को दे देंगे।

हालांकि कथा को विधिवत तरीके से समय पर जरुर किया जायेगा और अगर दिव्य दरबार नहीं लगेगा तो सिर्फ सामूहिक अर्जी को कल के दिन लगाया जायेगा।

Bageshwar Dham: विवादों के बीच बिहार पहुंचे बागेश्वर सरकार, हुआ भव्य स्वागत

Bageshwar Dham: गुना के इस युवक की घर से लगाई गयी अर्जी हुयी स्वीकार, गुरुदेव ने दिया कर्ज़ा चुकने आशीर्वाद