बी.एड (B.Ed.): सभी राज्यों की बीएड एडमिशन की पूरी जानकारी इस पेज से पढ़ें

11 Min Read

बीएड कैसे करें, आज के समय के युवा अपने करियर को बनाने के लिए काफी सक्रिय होते जा रहे हैं ऐसे मे वह अपने करियर को एक बेहतरीन दिशा देने के लिए सबसे पहले शिक्षा का ही सहारा लेते है शिक्षा के माध्यम से करियर बनाना सभी का एक लक्ष्य होता है और उस लक्ष्य को पाने के लिए छात्र पढ़ाई से सम्बंधित अनेक कोर्स एवं डिप्लोमा को करते है

और आज के समय मे अपने करियर को बेहतर बनाने के लिए अनेक ऐसे कोर्स सरकार द्वारा करवाये जा रहे है या फिर कॉलेज उपलब्ध है जिनको चुनकर वह अपने भविष्य को उज्जवल बना सकते है। इन्ही कोर्स मे से एक है बीएड तो आज हम जानेंगे इस कोर्स के बारे मे की बीएड कैसे करें।

देखिये दोस्तों अगर हम बात करें आज से 20 साल पहले की तो शिक्षक बनने के लिए हमारा सिर्फ ग्रेजुएशन पास होने की डिग्री होना काफ़ी होता था उस समय स्नातक की पढ़ाई के आधार पर शिक्षक बनने की अनुमति सरकार द्वारा होती थी। लेकिन विगत कुछ वर्षो से अब शिक्षक बनने के लिए एक नया कोर्स चलाया गया जिसको करने के बाद ही उम्मीदवार को शिक्षक की परीक्षा ने बैठने के योग्यता प्रदान की गयी है।

इस कोर्स को मास्टर डिग्री के नाम से जाना जाता है जिसका नाम है बीएड। जो भी विद्यार्थी या छात्र शिक्षक के तौर पर अब अपना भविष्य बनाना चाहते है उनके लिए यह डिग्री हासिल करना अनिवार्य हो गया है। तो दोस्तों आज के इस लेख मे हम आपको बीएड कोर्स के बारे मे जानकारी देंगे।

अगर आप शिक्षक बनने के लिए बीएड करना चाहते है और आपको इसके बारे मे ज्यादा जानकारी प्राप्त नहीं है तो तो इससे सम्बंधित पूरी जानकारी प्राप्त करने के लिए हमारे इस लेख को अंत तक जरूर पढ़े।

बी.एड (B.Ed.): सभी राज्यों की बीएड एडमिशन की पूरी जानकारी इस पेज से पढ़ें

बीएड एक प्रकार का कोर्स है जिसको करने के बाद आप शिक्षक बनने के लियु पूर्ण रूप से योग्यता प्राप्त कर लेते है बीएड का पूरा नाम है बेचलर ऑफ़ एजुकेशन जिसका हिंदी मे मतलब होता है पढ़ाई मे स्नातक की डिग्री हासिल करना।

बीएड दो वर्षीय शिक्षा कोर्स है जिसको कोई भी छात्र या उम्मीदवार ग्रेजुएशन की डिग्री को पास करने के बाद ही कर सकता है, जिसके बाद आप बीएड मे एडमिशन लेकर दो वर्ष मे एक शिक्षक और छात्र दोनों के रूप मे कार्य करेंगे। बीएड करने पर आपको खुदकी पढ़ाई तो करनी ही होगी साथ मे यह भी सिखने को मिलता है की पढ़ाया कैसे जाता है।

सीधे-सीधे शब्दों मे हम कहे तो बीएड एक दो वर्षीय कोर्स है जिसको करने के बाद आपको एक सर्टिफिकेट प्रदान किया जाता है जिसमे यह सूचित किया जाता है की आप एक शिक्षक क्व रूप मे कार्य करने के लिए पूरी तरह से योग्य घोषित हो चुके है और इस काम को करने मे सक्षम भी है, जिसे हम बीएड कहते है।

बीएड करने के लिए पात्रता

प्रत्येक कोर्स को करने के लिए हमारे लिए कुछ जरुरी योग्यता को पूरा करना आवश्यक होता है। इसी तरह से बीएड करने के लिए भी आपके पास कुछ योग्यताओं का होना अति आवश्यक है, जिनका विवरण हम आपको नीचे दें रहे है।

  • बीएड करने के लिए सबसे पहले तो आपकी किसी भी विषय से किसी भी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से ग्रेजुएशन पास की डिग्री होना आवश्यक है।
  • ग्रेजुएशन की लास्ट ईयर मे आपके कम से कम 50% अंक से पास होना जरुरी है।
  • इसके अलावा आपके पास उसी कॉलेज से ग्रेजुएशन का ट्रांसफर सर्टिफिकेट भी होना चाहिए।
  • कुछ विश्वविद्यालय या संस्थान बीएड कोर्स के लिए आपको योग्यता टेस्ट (Eligibility Test) देने की भी आवश्यकता रखते हैं। यह टेस्ट आपकी व्यक्तिगतता, बुद्धि, सामान्य ज्ञान, और शिक्षण क्षेत्र में आपकी क्षमताओं का मूल्यांकन करता है।
  • इसके आलवा अलग-अलग शिक्षा संस्थानों मे इसकी योग्यता मे बदलाव हो सकता है।

यहाँ हमारे द्वारा दिए गए योग्यता मापदंड केवल मान्यता प्राप्त संस्थानो के लिए दिए गए है इसके अलावा अलग-अलग कॉलेज मे इसमें बदलाव हो सकता है।

सरकारी कॉलेज से बीएड कैसे करें

तो दोस्तक अगर आप सरकारी कॉलेसे बीएड को करना चाहते है तो उसके लिए आपको एंट्रेंस एग्जाम देने की जरुरत भी पड़ सकती है, हालांकि कुछ कॉलेज मे इसकी एडमिशन प्रोसेस मेरिट के आधार पर भी हो जाती है।

इसलिए अगर आपको सरकारी कॉलेज से बीएड को करनाः तो एंट्रेंस एग्जाम की तैयारी करना होगा ताकि आपको इसमें आसानी से दाखिला मिल जाये। इसके लिए आपको अपना फॉर्म फील करना होगा और बाद मे रिजल्ट के आधार पर आपका चयन हो सकता है।

सरकारी कॉलेज से बीएड करने पर आपको इसमें प्राइवेट कॉलेज की अपेक्षा कम फीस लगेगी और बेहतरीन स्कूल मे प्रशिक्षण देने का मौका मिलता है।

एमपी iti mponline एडमिशन 2023 {नया रजिस्ट्रेशन 14 जुलाई से} (MP ITI Admission 2023) | Madhya Pradesh ITI Admission 2023 (iti.mponline.gov.in)

बीएड कैसे करें

अगर आप बीएड कोर्स को करने मे दिलचस्पी रखते है तो आपको इसमें एडमिशन लेने की पूरी प्रोसेस पता होनी चाहिए। बीएड कैसे करें की पूरी जानकारी को नीचे हम आपको स्टेप्स मे समझाते है।

  • बीएड करने के लिए आपको 10वी पास होने के बाद अपने सबसे बेहतरीन विषय का चयन 11वी कक्षा के लिए करना है।
  • इसके बाद आपको अपनी ग्रेजुएशन की डिग्री को हासिल कर लेना है।
  • इस बात का ध्यान रखें कि स्नातक के आखरी वर्ष में आपका न्यूनतम 50% अंकों के साथ पास होना आवश्यक है।
  • इसके बाद आप B.Ed में एडमिशन तीन प्रकार से ले सकते हैं डायरेक्ट एडमिशन मेरिट के आधार पर और एंट्रेंस एग्जाम को देकर।
  • डायरेक्ट एडमिशन लेने के लिए आपको सीधे उसी संस्था में संपर्क करना जहां पर बिना किसी अधिक योग्यता के दाखिला होता हो। इस तरह के एडमिशन में आपको केवल दस्तावेजों के आधार पर आसानी से एडमिशन मिल जाता है।
  • मेरिट के आधार पर एडमिशन लेने के आपको B.Ed के लिए फॉर्म फिल अप करना होगा इसके बाद मेरिट लिस्ट का इंतजार करना होगा। जिसके बाद आपका नाम अगर आता है तो एडमिशन को आसानी से ले सकते ह।
  • एंट्रेंस एग्जाम के आधार पर B.EdB.Ed करने के लिए आपको इसके लिए आयोजित किए जाने वाले परीक्षा पेपर को पास करना होगा।
  • इस तरह से आप बीएड में आसानी से एडमिशन ले सकते हैं।

आवश्यक दस्तावेज

अगर आपको भी बीएड करके शिक्षक बनने के लक्ष्य को हासिल करना है तो इसके लिए आपके पास कुछ जरुरी दस्तावेज का होना आवश्यक होता है। जिन दस्तावेजों की जरुरत बीएड करने के लिए पडती है वह नीचे इस प्रकार से है।

  • 12वी अंकसूची
  • ग्रेजुएशन पास की डिग्री
  • आधार कार्ड, पहचान प्रमाण पत्र, आय प्रमाण पत्र और जाति प्रमाण पत्र(अगर हो तो)
  • ट्रांसफर सर्टिफिकेट
  • मोबाइल नम्बर
  • स्वयं की पासपोर्ट साइज फोटो

इन दस्तावेजों के अलावा आपको जिस भी सरकारी या प्राइवेट कॉलेज मे एडमिशन लेना है वहाँ से सभी दस्तावेजों की पुख्ता जानकारी को जरूर प्राप्त कर ले।

बीएड कोर्स फीस डिटेल्स

चूंकि बीएड एक प्रकार का शिक्षा कोर्स है इसको आप  सरकारी और प्राइवेट दोनों कॉलेज से कर सकते है। इसलिए दोनों क्षेत्रों मे इसकी फीस मे भी अंतर देखने को मिलता है। अगर हम बात करें प्राइवेट कॉलेज की तो यहाँ आपको इस कोर्स की पूरी फीस 1 लाख रूपये तक लग सकती है जबकि सरकारी कॉलेज मे इसकी फीस 50 हजार रूपये के आस पास रहती है।

लेकिन हम आपको बता दें की इस कोर्स की फीस सभी कॉलेज मे एक समान नहीं होती है, इसलिए जिस भी संस्थान से आप बीएड करते है वहाँ पर इसकी पूरी जानकारी पहले अच्छे से प्राप्त कर ले।

बीएड कोर्स समयावधि

3 साल की ग्रेजुएशन करने के बाद अगर आप बीएड मे एडमिशन लेते है तो इसमें आपको कुल 2 वर्ष का समय और लगेगा। इन 2 वर्षों मे आपके कुल चार सेमेस्टर मे इसके एग्जाम होंगे जो प्रत्येक छः माह के अंतराल पर नियमित रूप से होंगे।

निष्कर्ष

तो दोस्तों यें थी बीएड कैसे करें की पूरी जानकारी इसमें आपको बीएड कैसे करें की हर एक बात को हमने अच्छे तरीके से आपको बताने का प्रयास किया है।

आशा करता हू की आपको हमारा यह लेख बीएड कैसे करें की पूरी जानकारी बहुत पसंद आयी होंगी इसके अलावा भी आपको किसी भी प्रकार की समस्या जाती है तो हमें कंमेन्ट करके इसकी जानकारी जरूर दें, हम आपके सवाल का जवाब देने का पूरा प्रयास करेंगे। हमारे इस आर्टिकल को अपने दोस्तों के साथ शेयर अवश्य करियेगा।

FAQ

  • सरकारी कॉलेज से बीएड कैसे करें?

    तो दोस्तक अगर आप सरकारी कॉलेसे बीएड को करना चाहते है तो उसके लिए आपको एंट्रेंस एग्जाम देने की जरुरत भी पड़ सकती है, हालांकि कुछ कॉलेज मे इसकी एडमिशन प्रोसेस मेरिट के आधार पर भी हो जाती है।

  • बीएड कैसे करें

    अगर आप बीएड कोर्स को करने मे दिलचस्पी रखते है तो आपको इसमें एडमिशन लेने की पूरी प्रोसेस पता होनी चाहिए। बीएड कैसे करें की पूरी जानकारी को नीचे हम आपको स्टेप्स मे समझाते है।

Share This Article
Leave a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Exit mobile version