Bageshwar Dham: एक करोड़ के चैलेंज पर धीरेन्द्र कृष्ण शास्त्री ने किया पलटवार कहा की हम कोई फरमाइशी गीत नहीं है

3 Min Read
1 karor ka dheerendra shastri ka bayan

Bageshwar Dham: एक करोड़ के चैलेंज पर धीरेन्द्र कृष्ण शास्त्री ने किया पलटवार कहा की हम कोई फरमाइशी गीत नहीं है 

कुछ समय पहले छिंदवाड़ा के आयुर्वेदिक डॉक्टर प्रकाश टाटा ने पंडित धीरेन्द्र कृष्ण शास्त्री को 1 करोड़ का चैलेंज दिया था जिसके जवाब मे बागेश्वर धाम के पिठाधिश्वर पंडित धीरेन्द्र कृष्ण शास्त्री ने कहा है की हम कोई फरमाईशी गीत नहीं है, जो यही सब करते रहे, गुरुदेव जी महाराज ने कहा की इससे पहले भी हमें बहुत चैलेंज मिल चुके सबका जवाब दिया,सबके प्रीतिउत्तर दिए है, अब यही सब थोड़ी करते रहेंगे हमें और भी अन्य कार्य करने है।

Bageshwar Dham: सस्ती लोकप्रियता का तरीका धीरेन्द्र कृष्ण शास्त्री

जब पत्रकारों ने धीरेन्द्र कृष्ण शास्त्री जी से पूछा की आपको अब लगातार चैलेंज मिल रहे है, इस पर आपकी क्या राय है इसका जवाब देते हुए पंडित धीरेन्द्र कृष्ण शास्त्री जी ने कहा की हम कोई फरमाइशी गीत नही है जो यही सब करते रहेंगे आगे गुरूजी ने कहा की लोग इस तरह के चैलेंज करके सस्ती लोकप्रियता पाने का एक तरीका बना लिया है,

जो उन्हें मिल रही है। इस दौरान धीरेन्द्र शास्त्री जी के बोलने के ढंग से पता चल रहा था की वह प्रकाश टाटा का मज़ाक उड़ा रहे है क्युकी उनके द्वारा दिए गए ब्यान बहुत ही मजाकिया थे।

पंडित धीरेन्द्र कृष्ण शास्त्री जी की यह बात सत्य भी है क्यूंकि पहले श्याम मानव को कोई नहीं जानता था लेकिन अब उन्हें सब जानने लगे है, इसी तरह पहले प्रकाश टाटा को भी कोई नहीं जानता था लेकिन अब सब जानने लगे है इसी तरह से लोग अपनी लोकप्रियता बागेश्वर धाम के नाम पर कमा रहे है 

Bageshwar Dham: क्या था विवाद

दरअसल, कुछ दिन पहले छिंदवाड़ा के आयुर्वेदिक डॉक्टर प्रकाश टाटा ने बागेश्वर सरकार पंडित धीरेन्द्र कृष्ण शास्त्री समेत पुरे भारत के बाबाओं को यह चैलेंज किया था की अगर कोई भी मेरे मन की पर्ची अगर हूबाहू बना देता है तो मै उसे 1 करोड़ रूपये इनाम के रूप मे दूंगा,

1 karor ka dheerendra shastri ka bayan

अगर वह ऐसा नहीं कर पाते है तो 11 लाख रूपये मै उनसे लूंगा जिसको मै हनुमान जी की जन्मस्थली की सडक निर्माण मे दान कर दूंगा, ऐसा चैलेंज प्रकाश टाटा ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के द्वारा बागेश्वर सरकार को दिया था।

Bageshwar Dham: होली का त्यौहार बुंदेलखंड से हुआ है प्रारम्भ बताया बागेश्वर सरकार धीरेन्द्र कृष्ण शास्त्री ने 

Bageshwar Dham: विज्ञान जहाँ शून्य होता है अध्यात्म वहाँ से प्रारम्भ होता है, जानिए पंडित धीरेन्द्र कृष्ण शास्त्री के अनुसार
Share This Article
Leave a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Exit mobile version