मध्यप्रदेश मुख्यमंत्री चरण पादुका योजना 2023 {आवेदन}

मध्यप्रदेश मुख्यमंत्री चरण पादुका योजना 2023, मध्यप्रदेश में समय चुनावी दौर चल रहा है और इस चुनावी दौर में अभी मध्य प्रदेश की जो वर्तमान सरकार है वह आंगे आने के लिए हर प्रकार की योजनाओं की शुरुआत कर रही है जिससे जनता को तो लाभ होता ही है और सरकार भी चुनाव में अपने मजबूत कदम रखती जा रही है।

अनेक योजना को चलाने के बाद अब मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने एक और योजना को शुरू करने का ऐलान कर दिया है, जिसका नाम है मुख्यमंत्री चरण पादुका योजना, क्या है चरण पादुका योजना,किसे मिलेगा इसका लाभ, और क्या होगी योग्यता की शर्तें अंत में जानेंगे कि इस योजना का लाभ पाने के लिए आवेदन कैसे करें। उन सभी जानकारी को पूरा प्राप्त करने के लिए हमारे इस लेख पर अंत तक जरूर बनी रहे  ताकि आपको पूरी जानकारी सटीक रूप से प्राप्त हो सके, तो चलिए शुरू करते हैं।

क्या है मुख्यमंत्री चरण पादुका योजना

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री माननीय श्री शिवराज सिंह चौहान के द्वारा मुख्यमंत्री चरण पादुका योजना की शुरुआत की गई है, इसकी घोषणा करते हो उन्होंने ऐलान किया है कि इस योजना का लाभ तेंदूपत्ता संग्राहक ग्राहकों के परिवार को दिया जाएगा। जिसमें तेंदूपत्ता संग्राहक के परिवार के सदस्यों को जूता,चप्पल, साड़ी, छाता और पानी की बोतल निःशुल्क मध्यप्रदेश सरकार की तरफ से दी जायेगी।

मुख्यमंत्री चरण पादुका योजना की शुरुआत की घोषणा मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने 26 जुलाई 2023 को मध्यप्रदेश के सिंगरौली जिले में की जहां उन्होंने कुछ लोगों को इसकी संबंधित सामग्री को भी प्रदान किया और इस योजना का शुभारंभ करवा दिया।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने ट्वीट करके बताया कि “समाज के कमजोर वर्ग की सेवा और उत्थान ही मेरे जीवन का ध्येय है।

मेरे लिए यह हर्ष का विषय है कि ‘मुख्यमंत्री चरण पादुका योजना’ के माध्यम से मेरे तेंदूपत्ता संग्राहक बहनों-भाइयों को साड़ी, जूते, पानी की कुप्पी और छाता मिल सकेगा, जिससे इनका जीवन सरल होगा।

यह और खुशी की बात है कि आज मैंने ‘मुख्यमंत्री युवा अन्नदूत योजना’ के हितग्राहियों को उनके वाहनों की चाबी भेंट की। मुझे विश्वास है कि इस योजना से प्रदेश के युवा न केवल आत्मनिर्भर बनेंगे, बल्कि निर्धारित समय में पात्र हितग्राहियों तक खाद्य सामग्री भी पहुँच सकेगी। 

मैं अपने सभी युवा साथियों और तेंदूपत्ता संग्राहक बहनों-भाइयों को शुभकामनाएं देता हूँ।”

मध्यप्रदेश मुख्यमंत्री तीर्थ दर्शन योजना: 2023 मे किस तरह तरह करें आवेदन

मुख्यमंत्री चरण पादुका योजना क्या है?

कौन-कौन सी सामग्री की जायेगी प्रदान

मुख्यमंत्री चरण पादुका योजना के तहत मध्य प्रदेश के तेंदूपत्ता संग्राहक लोगों के लिए अनेक प्रकार की सामग्री प्रदान की जाएगी।

 महिलाओं के लिए

  • साड़ी
  • पानी की बोतल
  • छाता
  • चप्पल

पुरुषो के लिए

  • जूता
  • पानी की बोतल
  • छाता

छाते को प्रत्यक्ष रूप से तेंदूपत्ता संग्रहाको के लिए प्रदान नहीं कि जाएंगे, बल्कि इसके लिए उनके खातों में ₹200 रुपए की राशि सीधे उनके बैंक अकाउंट में डाली जाएगी।

योजना का उद्देश्य

मुख्यमंत्री चरण पादुका योजना को चालू करने का मुख्य उद्देश्य सरकार का यह है की इससे जो लोग बीड़ी निर्माण कार्य के लिए तेंदूपत्ता का संग्रहण करते है। उनके लिए आर्थिक तंगियों का सामना करना पड़ता है जिससे वह अपने लिए स्वयं किसी भी प्रकार की सामग्री नहीं खरीद पाते है। जिसके चलते वह बरसात और अन्य मौसम मे तेंदुपत्ता इकट्ठा करने के लिए जाते है तो अनेक समस्यायो का सामना भी करना पड़ता है जैसे की बारिश हो जाने से भीग जाना, चप्पल और जूता ना होने से पैरो मे कांटे व पत्थर गढ़ जाना, इस सभी समस्याओ का सामना उन्हें करना पड़ता है।

इसी समस्या का निवारण करने के उद्देश्य लिए मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने इस योजना को शुरू करने का ऐलान किया है।

योजना के लिए पात्रता

अगर आप मुख़्यमंत्री चरण पादुका योजना का लाभ उठाना चाहते है तो आपके पास इन सभी पत्रताओ का होना आवश्यक है।

  • सबसे पहले तो आप इसके लिए मध्यप्रदेश के मूल निवासी होने चाहिए।
  • आपकी उम्र 18 साल या उसे अधिक होनी अनिवार्य है।
  • आपका निवास स्थान ऐसी जगह पर होना चाहिए, जहाँ पर तेंदुपत्ता के जंगल हो।
  • आपके पास गरीबी रेखा का राशन कार्ड भी होना चाहिए।

आवश्यक दस्तावेज

अगर आप सभी पात्रता से सम्बंधित शर्तो को पूरा करते है और इसके लिए आवेदन करना चाहते है तो आपको अपने साथ इन सभी दस्तावेजों को जरूर एकत्रित कर लेना चाहिए।

  • आधार कार्ड
  • बैंक पासबुक
  • जाति प्रमाण पत्र
  • स्थाई निवास प्रमाण पत्र
  • तेंदुपत्ता संग्राहक होने का कोई प्रमाण
  • मोबाइल नम्बर

योजना की विशेषताएं

मुख्यमंत्री चरण पादुका योजना की अनेक विशेषताएं है और बहुत सारे लाभ आपको इससे प्राप्त होने वाले है।

  • इस योजना के माध्यम से केवल एक विशेष कार्यरत काम करने वाले लोगों को सम्मानित किया जायेगा।
  • इससे लोगों मे बीड़ी निर्माण जैसे कार्य मे रूचि भी बढ़ेगी।
  • इस योजना के माध्यम से तेन्दुपत्ता संग्रहक भाईओ और बहनो की कमाई का एक हिस्सा बच जायेगा।
  • चरण पादुका योजना से लोगों की आर्थिक स्थिति मजबूत होंगी।
  • चरण पादुका योजना का लाभ हर वर्ष दिया जायेगा मतलब की साल मे एक बार सरकार यें सभी सामग्री तेन्दुपत्ता संग्रहकों के लिए उपलब्ध कराएगा।
  • इस योजना के माध्यम से 200 रूपये की राशि सीधे लाभार्थी के खातों मे डाली जायेगी।

कैसे करें आवेदन

देखिये दोस्तों मुख्यमंत्री चरण पादुका योजना की घोषणा अभी हाल ही में 26 जुलाई 2023 को मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के द्वारा सिंगरौली जिले में की गई है। लेकिन अभी इसके लिए किसी भी प्रकार के पोर्टल को आवेदन हेतु प्रारंभ नहीं किया गया है।

हालांकि बहुत ही जल्द ही इस योजना में आवेदन करने के लिए सरकार के द्वारा कोई पोर्टल चालू किया जाएगा। तो दोस्तों जैसे ही इसके लिए आवेदन प्रक्रिया चालू हो जाएगी तो हम आपको इसी आर्टिकल के माध्यम से आपको आवेदन करने की पूरी प्रक्रिया को बहुत ही आसान तरीके से बता देंगे।

निष्कर्ष

तो दोस्तों आज के इस लेख में हमने जाना कि मुख्यमंत्री चरण पादुका योजना क्या है यह मध्यप्रदेश में कब और कहां घोषित की गई।

उम्मीद करता हूं तो आप किस आर्टिकल में मुख्यमंत्री चरण पादुका योजना 2023 के बारे में पूरी जानकारी अच्छे से पता लग गई होगी। आपको हमारा यह ब्लॉग कैसा लगा इस बात की जानकारी हमें कमेंट कर के अवश्य बताये साथ ही इसे अपने दोस्तों के शेयर भी करें।

बिहार टीईटी 2023 {नोटिफिकेशन जल्द} (Bihar TET 2023) | Bihar Teacher Eligibility Test (Bihar TET) 2023

एमपी डीएलएड काउंसलिंग 2023 {CLC2 Round} (MP D.El.Ed Counselling 2023)

FAQ’S

  • 1. मुख्यमंत्री चरण पादुका योजना की शुरुआत कब हुई?

    मुख्यमंत्री चरण पादुका योजना की शुरुआत 26 जुलाई 2023 को मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान के द्वारा मध्य प्रदेश के सिंगरौली जिले में एक कार्यक्रम के माध्यम से की गई। हालांकि अभी इसकी शुरुआत के लिए आवेदन प्रक्रिया चालू नहीं हुई है।

  • मुख्यमंत्री चरण पादुका योजना क्या है?

    मुख्यमंत्री चरण पादुका योजना एक ऐसी योजना है जिसके माध्यम से तेंदूपत्ता संग्राहक भाइयों और बहनों के लिए तेंदूपत्ता एकट्टे करने के लिए जरूरत पड़ने वाली सामग्री की पूर्ति के लिए चलाई