15 August 2023 (स्वतंत्रता दिवस) के लिए भाषण वादन

14 Min Read

15 August 2023 (स्वतंत्रता दिवस) के लिए भाषण वादन, हेलो दोस्तों जैसे की इस समय गड़तंत्र दिवस की तारीख लगातार नजदीक आती जा रही है और अनेक छात्र-छात्राये स्कूल और कॉलेज मे गाना, डांस, नाटक और भाषण का कार्यक्रम प्रस्तुत करते है, इस तरह से वह तैयारियां कर के एक अच्छा प्रस्तुतिकरण वह इस त्यौहार के अवसर पर दें पाते है।

आज के इस लेख मे हम आपको बताएँगे 15 August 2023 यानि की गड़तंत्र दिवस और 26 जनवरी के लिए भाषण वादन के लिए कुछ पैराग्राफ जिनको बोल कर आप एक अच्छा भाषण लोगों को बीच दें सकते है। चलिए देखते है कुछ अच्छे भाषण।

15 August 2023 (स्वतंत्रता दिवस ) के लिए भाषण

1.1 15 अगस्त, स्वतंत्रता दिवस, भारतीय इतिहास में एक महत्वपूर्ण दिन है। यह दिन हमें उन वीरों की याद दिलाता है जिन्होंने अपने जीवन की आहुति देकर हमें आजादी दिलाई। हम आज उनका सम्मान करते हैं और उनकी कुर्बानियों को याद करते हैं।

हमारे पूर्वजों ने विश्वास और संकल्प के साथ ब्रिटिश शासन के खिलाफ लड़ा, जिससे हम आज़ाद देश में जी सकते हैं। महात्मा गांधी, सरदार पटेल, जवाहरलाल नेहरू जैसे महान नेता हमें एकजुट होकर स्वतंत्रता की दिशा में आगे बढ़ने की सीख देते हैं।

हमें यह याद रखना चाहिए कि स्वतंत्रता की यह महान जीत हमारे लिए एक बड़ी जिम्मेदारी भी है। हमें अपने कर्तव्यों के प्रति समर्पित रहकर देश के विकास में योगदान देना चाहिए।

आज हमें समय के साथ चलकर उन आदर्शों का पालन करना होगा जिन्होंने हमें स्वतंत्रता की महत्वपूर्णता को सिखाया। हमें अपने देश के प्रति प्रेम और उसके सुरक्षा-संरक्षण में योगदान देना चाहिए।

स्वतंत्रता दिवस के इस अवसर पर, हमें देशभक्ति और सामाजिक समरसता की महत्वपूर्णता को समझना चाहिए और उन आदर्शों का पालन करना चाहिए जो हमारे स्वतंत्रता संग्रामी नेताओं ने हमें सिखाए हैं। यही हमारी सच्ची श्रद्धांजलि होगी उनके प्रति। जय हिंद!

1.2 आज हम सभी यहाँ स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर इकट्ठे हुए हैं। यह दिन हमारे देश के इतिहास में गर्व की बात है, क्योंकि आज से 75 वर्ष पहले, हमारे पूर्वजों ने ब्रिटिश शासन से मुक्ति पाई थी।

स्वतंत्रता का यह महत्वपूर्ण संदेश है कि हमें स्वतंत्रता का उपयोग सही तरीके से करना चाहिए। हमारे देश के महान नेताओं ने खेद और त्याग के साथ स्वतंत्रता की लड़ाई दी थी, और हमें उनके योगदान का सम्मान करना चाहिए।

स्वतंत्रता के बाद भी हमें देश के विकास के लिए कठिनाइयों का सामना करना पड़ा, लेकिन हमने अपने सामर्थ्य और संकल्प से उन समस्याओं का समाधान निकाला है। हमारे वैज्ञानिक, कृषि वैज्ञानिक, और तकनीकी उन्नतियों ने हमें एक नये भारत की दिशा में आगे बढ़ने में मदद की है।

15 August 2023

इस स्वतंत्रता दिवस पर, हमें यह समझना चाहिए कि हमारी जिम्मेदारी अब भी जारी है। हमें देश के विकास में अपने कर्तव्यों का पालन करना है और समाज में न्याय और समरसता की भावना को बढ़ावा देना है।

स्वतंत्रता दिवस हमें याद दिलाता है कि हमें एक एक समर्पित भारतीय के रूप में गर्व महसूस करना चाहिए, और हमें देश के उत्थान के लिए साथ मिलकर काम करना चाहिए। आओ, हम सभी एक नए और मजबूत भारत की दिशा में कदम बढ़ाएं और हमारे महान देश का सम्मान करें। धन्यवाद्।

1.3 स्वतंत्रता दिवस के इस शुभ अवसर पर, हम सभी एक साथ एकत्रित होकर हमारे देश के महान वीर और स्वतंत्रता सेनानियों को नमन करते हैं, जिन्होंने अपने जीवन की आहुति देकर हमें स्वतंत्रता दिलाई।

स्वतंत्रता का मतलब होता है अपनी आत्मा की जोड़ को मुक्त करना, और हमारे पूर्वजों ने यह काम किया और हमें आजादी दिलाई। हम उनकी बहादुरी और संकल्प को सलाम करते हैं और उनकी कुर्बानियों का सम्मान करते हैं।

आज हमारी जिम्मेदारी है कि हम उनके बलिदान को बेकार नहीं जाने दें, और हम अपने देश को मजबूत और समृद्ध बनाने में योगदान दें। हमें समझना होगा कि स्वतंत्रता सिर्फ शारीरिक रूप से ही नहीं, मानसिक और सामाजिक रूप से भी होनी चाहिए।

हमारे देश में विभिन्न जातियों, धर्मों, भाषाओं के लोग रहते हैं, लेकिन हम सभी एक हैं। हमारा एकमात्र धर्म होना चाहिए – देशभक्ति। हमें अपने देश के प्रति प्रेम और समर्पण बनाए रखना चाहिए, ताकि हम एक मजबूत और एकत्रित भारत की दिशा में अग्रसर हो सकें।

इस स्वतंत्रता दिवस पर, हमें यह सोचने का मौका मिलता है कि हम अपने कार्यों से देश के उत्थान के प्रति अपनी प्रतिबद्धता को कैसे प्रकट कर सकते हैं। हमें स्वतंत्रता संग्राम के महान वीरों की याद में एक नये और सशक्त भारत की दिशा में कदम बढ़ाने का संकल्प लेना चाहिए।

धन्यवाद। जय हिंद

26 जनवरी (गड़तंत्र दिवस)के लिए भाषण

1.1 नमस्ते। आज हम यहाँ एक महत्वपूर्ण और गर्वभरा दिन मना रहे हैं – 26 जनवरी, जिसे हम स्वतंत्रता दिवस के रूप में जानते हैं। यह दिन हमारे देश की आजादी की प्राप्ति के लिए एक यादगार और महत्वपूर्ण मोमेंट का प्रतीक है।

हम सभी जानते हैं कि 26 जनवरी, 1950 को हमारा संविधान लागू हुआ था और भारत गणराज्य की स्थापना हो गई थी। इस दिन से हमने स्वतंत्रता के नए मार्ग पर कदम रखा और समृद्धि, समानता और अधिकारों के प्रति हमारी प्रतिबद्धता को पुनः पुष्टि दी।

स्वतंत्रता दिवस हमें हर बार याद दिलाता है कि हमारी अगर आजादी है, तो उसे स्वर्णिम श्रेणी की अधिकारी बनाने का यह दायित्व हमारे ऊपर है। हमें यह याद दिलाने का कार्य है कि हमारे पूर्वजों ने कितनी बड़ी कठिनाइयों का सामना करके इस स्वतंत्रता की प्राप्ति के लिए संघर्ष किया था।

इस दिन को मनाने का मतलब है हमें यह सिखने का और समझने का मौका मिलता है कि हम जैसे एक समृद्धि और विविधता से भरपूर देश के नागरिक कैसे अपने कर्तव्यों का पालन करके उसका समृद्धि में योगदान कर सकते हैं।

इस दिन को याद रखते हुए, हमें अपने देश के प्रति अपने कर्तव्यों का पालन करने का प्रतिबद्ध रहना चाहिए। हमें सभी को मिलकर समाज में बदलाव लाने का संकल्प लेना चाहिए ताकि हमारा देश और हमारे आने वाले पीढ़ियाँ गर्व महसूस कर सकें।

धन्यवाद्।

1.2 आज हम सभी एक ऐतिहासिक दिन के आगाज़ में हैं – गणतंत्र दिवस के उत्सव के दिन। यह दिन हमारे संविधान के प्रभाव की याद दिलाता है, जो हमारे देश की नींव है और हमारे नागरिकों को समानता और स्वतंत्रता के अधिकार प्रदान करता है।

गणराज्य का मतलब होता है – शक्ति जनता की है। यह दिन हमें याद दिलाता है कि सरकार ने हमें चुनने की अधिकारिता दी है और हमें देश के प्रगति में भाग लेने का मौका मिलता है। हम सभी की जिम्मेदारी है कि हम सावधानी से अपने अधिकार का उपयोग करें और समर्थन करने के लिए प्रतिबद्ध रहे है।

आज हम सभी एक ऐतिहासिक दिन के आगाज़ में हैं – गणतंत्र दिवस के उत्सव के दिन। यह दिन हमारे संविधान के प्रभाव की याद दिलाता है, जो हमारे देश की नींव है और हमारे नागरिकों को समानता और स्वतंत्रता के अधिकार प्रदान करता है।

गणराज्य का मतलब होता है – शक्ति जनता की है। यह दिन हमें याद दिलाता है कि सरकार ने हमें चुनने की अधिकारिता दी है और हमें देश के प्रगति में भाग लेने का मौका मिलता है। हम सभी की जिम्मेदारी है कि हम सावधानी से अपने अधिकार का उपयोग करें और समर्थन करने के लिए प्रतिबद्ध रहें।

गणतंत्र दिवस हमें यह याद दिलाता है कि हमारे समाज में विभिन्न वर्गों, धर्मों, जातियों और भाषाओं के लोग एक साथ रहते हैं और एकता में शक्ति होती है। हमें यह सुनिश्चित करने की आवश्यकता है कि हम सभी विभिन्नताओं का सम्मान करते हुए एक समृद्ध और सहमति भरे समाज का निर्माण करें।

इस गणतंत्र दिवस पर, हमें अपने कर्तव्यों की ओर पूरी दिशा से दृष्टि केंद्रित करने का अवसर मिलता है। हमें अपने देश के विकास में योगदान करने का संकल्प लेना चाहिए, सोचकर और काम करके हम एक मजबूत गणराज्य की नींव रख सकते हैं।

साथ ही, हमें यह भी याद दिलाना चाहिए कि हमारे स्वतंत्रता संग्राम के शीर्ष नेता और महान विचारकों ने किस तरह से एक महान संविधान तैयार किया था, और हमें उनके आदर्शों का पालन करते हुए आगे बढ़ना चाहिए।

इस गणतंत्र दिवस पर, हमें यह सोचकर आगे बढ़ने का संकल्प लेना चाहिए कि हम अपने देश को और भी महान और सशक्त बनाने में कैसे सहायता कर सकते हैं।

धन्यवाद्।

1.3 करीब दो सदी से अधिक का समय बीत चुका है जब हमारा देश गणराज्य के रूप में अपने लक्ष्यों की दिशा में अग्रसर हुआ था। गणतंत्र दिवस हर साल 26 जनवरी को मनाया जाता है ताकि हम सभी अपने स्वतंत्रता संग्राम के शीर्ष नेताओं की स्मृति में एकजुट हो सकें और उनके संघर्षों को याद करके उनके प्रति आभार व्यक्त कर सकें।

हमारे संविधान को लागू करने से देश में सामाजिक समानता, धार्मिक स्वतंत्रता और न्याय की भावना की बढ़ गई है। इसके साथ ही, गणराज्य के माध्यम से हमने जनसंख्या के अनुसार साक्षरता, शिक्षा और स्वास्थ्य सेवाओं के क्षेत्र में महत्वपूर्ण कदम उठाए हैं।

गणतंत्र दिवस हमें याद दिलाता है कि हमारे देश में सत्ता जनता के हाथ में है और हम सभी का योगदान देश के उद्देश्यों की प्राप्ति में महत्वपूर्ण है। यह दिन हमें उन मूल अधिकारों की याद दिलाता है जिन्हें हमें समझना चाहिए और उनके प्रति पुनरावलोकन करने की आवश्यकता है।

आज, हमें अपने देश के विकास और समृद्धि में योगदान करने का संकल्प लेना चाहिए। हमें एक सशक्त, समृद्ध और समानता पूर्ण समाज की दिशा में प्रयासरत रहना चाहिए ताकि हम आने वाली पीढ़ियों के लिए एक बेहतर देश की नींव रख सकें।

इस गणतंत्र दिवस पर, हमें अपने महान संविधानकर्ताओं और स्वतंत्रता सेनानियों के प्रति आभार व्यक्त करने का मौका मिलता है और हमें यह समझाने का अवसर मिलता है कि हम कैसे एक महान गणराज्य के निर्माण में योगदान कर सकते हैं।

गणतंत्र दिवस हमें यह याद दिलाता है कि हमारे समाज में विभिन्न वर्गों, धर्मों, जातियों और भाषाओं के लोग एक साथ रहते हैं और एकता में शक्ति होती है। हमें यह सुनिश्चित करने की आवश्यकता है कि हम सभी विभिन्नताओं का सम्मान करते हुए एक समृद्ध और सहमति भरे समाज का निर्माण करें।

इस गणतंत्र दिवस पर, हमें अपने कर्तव्यों की ओर पूरी दिशा से दृष्टि केंद्रित करने का अवसर मिलता है। हमें अपने देश के विकास में योगदान करने का संकल्प लेना चाहिए, सोचकर और काम करके हम एक मजबूत गणराज्य की नींव रख सकते हैं।

निष्कर्ष

आशा करता हू आपको हमारा यह लेख 15 August 2023 और 26 जनवरी के लिए भाषण वादन का का आर्टिकल काफ़ी पसंद आया होगा।

आपको हमारा यह लेख कैसा लगा कमेंट करके हमें जरूर बतायें साथ ही इस आवश्यक लेख को अपने दोस्तों के साथ व्हाट्सप्प, फेसबुक और इंस्टाग्राम जैसे सोशल मीडिया एप्प्स पर शेयर जरूर करें।

 स्वतंत्रता दिवस पर निबंध (Essay On Independence Day In Hindi) | आज़ादी का पर्व 15 अगस्त पर निबंध (Essay On 15 August In Hindi) पढ़ें

पीएम यसस्वी योजना 2023 {Apply Online} (Last Date, Eligibility) | Pm Yasasvi Yojana 2023

Share This Article
Leave a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Exit mobile version