Site icon Emka News

Phone के software को कैसे बदले ?

Phone ke software ko kaise badle

Phone के software को कैसे बदले 

 दोस्तों क्या आप जानते हैं कि Phone के software को कैसे बदले या फिर एक custom rom को कैसे बदल सकते हैं अब बात आती है कि custom rom क्या है ? और अपने phone को design कैसे कर सकते हैं ?

फोन का जो पूरा system रहता है उसको कैसे बदल सकते हैं ? फोन के Android Version को कैसे बदल सकते हैं ? और भी तमाम चीजों के बारे में आपको पूरी जानकारी विस्तारित रूप से देने वाले हैं तो आइए जानते हैं..

Phone के software को कैसे बदले

 आइये जानते है कि Phone के software को कैसे बदले इससे पहले आपको जानना होगा Custom Rom के बारे में Custom Rom क्या होता है ? तो आइए जानते हैं कि Rom kya hai ? और कैसे काम करती है Rom को कौन कौन बनाता है और Rom को कैसे अपने फोन में ही बदल सकते हैं ?

Rom kya h ?

 दोस्तों Rom एक के Software है Operating System है जिसे हम Rom के नाम से जानते हैं और यह Rom अलग-अलग कंपनियों की होती हैं जैसे कि MI के अंदर MIUI आता है और हमारे जो Apple के फोन में उनके अंदर IOS आता है और Samsung के फोन के अंदर OneUI आता है,

और अपने सुना होगा Stock Android के बारे में तो यह एक Software है जो कि कंपनी के द्वारा ही बनाया हुआ रहता है इसे हम लोग Rom कहते हैं अब Custom Rom क्या है ? हम बात करने Custom Rom के बारे में

जो Rom रहती है वह Official Company कि रहती है मतलब कि कंपनी के द्वारा बनाई होती है लेकिन जो custom Rom रहती है उसके लिए हमें अपने मोबाइल फोन को Unlock करना पड़ता है सभी फोन के अंदर एक लॉक लगा रहता है जिसे bootloader कहते हैं,

उसी bootloader को अनलॉक करने के बाद और custom recovery डालने के बाद हम custom rom भी डाल सकते हैं यह जो custom rom रहती है वह अन्य developer के द्वारा बनाई जाती है जो कि इसके अंदर बहुत सारे advance feature दिए जाते हैं,

इन्हीं rom के अंदर यह जो रूम है वह अलग-अलग होती हैं अलग-अलग developer इनको बनाते हैं और हम उपयोग कर सकते हैं, और इसी custom rom के द्वारा हम अपने फोन को design कर सकते हैं, और इसी custom rom के द्वारा हम अपने फोन को सुनहरा look दे सकते हैं,

Phone के software या rom को कैसे बदले ?

 अगर आप phone के software या उस rom से अगर आप तंग आ गए हैं क्योंकि फोन के अंदर जो software आता है आपको उसी को उपयोग करना होता है और उसी software को उपयोग करते करते आप बोर हो जाते हैं इसीलिए custom rom बनाई गई है ताकि जब आपका मन करे तब आप नया software डाल कर enjoy कर पाए,

 जिस तरीके से आप रोज रोज एक ही प्रकार का खाना नहीं खा सकते उसी प्रकार आप भी अपने फोन को नया लुक देने की कोशिश करते रहते होंगे लेकिन आज मैं आपको बताऊंगा कि हम Phone के software को कैसे बदले

Note – दोस्तों यह पूरा प्रोसेस करने से पहले आपको अपना फोन का बैकअप ले लेना है क्योंकि इस प्रक्रिया के दौरान आपका डाटा delete जाएगा  

 दोस्तों फोन के Phone के software को बदलने से पहले मैं कुछ बातें शेयर करना चाहता हूं जो कि आपको जानना बहुत ही जरूरी है जो हमारा फोन आता है और उसके अंदर जो software आता है वहां पर एक Lock लगा रहता है सभी फोन के अंदर जिसे हम Bootloader कहते हैं,

सबसे पहले उस bootloader को unlock करना पड़ता है, और हम computer से एक बार unlock करना होगा उसके बाद ही हम phone के software को बदल सकते हैं, phone के bootloader को unlock करने के बाद हमें computer से ही custom recovery डालनी होगी,

अलग-अलग फोन के लिए अलग-अलग custom recovery आती है आपको google पर सर्च करना है अपने फोन का मॉडल और लिखना है और download करना है custom recovery  example -: Custom Recovery Asus Max Pro M1

यह सारा काम करना होगा आपको एक बार कंप्यूटर की आवश्यकता पड़ने वाली है, यह कार्य करने के बाद आपको जरूरत पड़ेगी custom rom की तो आपको उस फाइल को download करना होगा,

मान लीजिए कि आपका मोबाइल Redmi note 5 है और उसके लिए आपको custom rom चाहिए है क्योंकि अलग-अलग मोबाइल के लिए अलग-अलग custom बनाई जाती है उसे हमें डाउनलोड करना पड़ता है 

Phone के software को बदलने के steps
  1.  Unlock Bootloader from Computer help of youtube
  2. download Custom recovery & flash in phone from computer,
  3. download custom rom for your device,
  4. boot to recovery,
  5. wipe – dalvic, cache, data, system & vendor
  6. than Flash Your Custom Rom,
  7. reboot & enjoy your new Phone !

 दोस्तों यह सभी process करने से पहले आप को ध्यान में रखना है कुछ चीजों के बारे में, सबसे पहले आपको ध्यान रखना है data का क्योंकि data सबसे ज्यादा important रहता है किसी भी फोन का तो सबसे पहले आप अपने memory card के अंदर data का backup जरूर ले लें,

क्योंकि इस प्रक्रिया के दौरान आपका data delete हो जाएगा, और जो भी शुरुआत से लेकर अंत तक जो प्रक्रिया है आप उसको अगर कर रहे हैं तो कृपया हमारी सलाह जरूर लें, और अगर कोई समस्या आती है तो हमसे संपर्क जरुर करें कमेंट के माध्यम से.

Custom Recovery kya hai ?

 लेकिन थोड़ी सी बात कर लेते हैं custom recovery के बारे में क्योंकि custom recovery का सबसे ज्यादा महत्वपूर्ण योगदान है क्योंकि विना custom recovery के आप Custom rom को फ्लैश नहीं कर सकते हैं इसलिए हम बात करते हैं custom recovery के बारे में,

तो जो आपको फोन रहता है उसके अंदर एक recovery आती है जो कंपनी की होती है उस कंपनी की recovery के साथ आप custom rom नहीं डाल सकते हैं,

इसलिए जरूरत पड़ती है custom recovery की, custom recovery अलग-अलग फोन के लिए बनाई गई है और उस फ़ाइल को हमें डाउनलोड करना पड़ता है और उस recovery को वही हमें डालना पड़ता है अपने फोन में,

 अब बात करते हैं custom recovery के काम के बारे में custom recovery का काम क्या है ? custom recovery का काम ही यही है कि custom rom को फ्लैश करना डाटा को डिलीट करना आप custom recovery है वो एक Administrator है वही custom recovery है आप custom recovery के द्वारा सारा काम और अपने फोन को संभाल सकती हैं.

Phone के software को कैसे बदले
Phone मे Lock क्यों लगाया जाता है ?

 दोस्तों आपके मन में एक और सवाल आ रहा होगा कि फोन में lock क्यों लगाया जाता है जैसे कि मैंने बात की bootloader के बारे में बिना bootloader unlock के आप custom rom को नहीं डाल सकती हैं,

दोस्तों bootloader एक ऐसा लॉक है जिसे हर कंपनी लगाकर फोन को भेजती है क्योंकि कि जब तक यह lock, unlock ना किया जाए तब तक हमारे फोन में कोई भी प्रकार की अटैकिंग नहीं कर सकता है यह अटैकर की अटैक से बचाने के लिए इस लोक को लगाया जाता है, किसी को हम bootloader lock भी कहते हैं,

इसे भी पड़े – ITI क्या है iti मे कितनी ट्रेड़े होती है NCVT व SCVT क्या है अंतर

GB Whatsapp क्या है ? GB Whatsapp के 12 Hidden Features

FAQs about Custom Rom

आइये जानते है कि Phone के software को कैसे बदले इससे पहले आपको जानना होगा Custom Rom के बारे में Custom Rom क्या होता है ? तो आइए जानते हैं कि Rom kya hai ? और कैसे काम करती है Rom को कौन कौन बनाता है और Rom को कैसे अपने फोन में ही बदल सकते हैं ?

दोस्तों Rom एक के Software है Operating System है जिसे हम Rom के नाम से जानते हैं और यह Rom अलग-अलग कंपनियों की होती हैं जैसे कि MI के अंदर MIUI आता है और हमारे जो Apple के फोन में उनके अंदर IOS आता है और Samsung के फोन के अंदर OneUI आता है,

और अपने सुना होगा Stock Android के बारे में तो यह एक Software है जो कि कंपनी के द्वारा ही बनाया हुआ रहता है इसे हम लोग Rom कहते हैं अब Custom Rom क्या है ? हम बात करने Custom Rom के बारे में

जो Rom रहती है वह Official Company कि रहती है

phone के software या उस rom से अगर आप तंग आ गए हैं क्योंकि फोन के अंदर जो software आता है आपको उसी को उपयोग करना होता है और उसी software को उपयोग करते करते आप बोर हो जाते हैं इसीलिए custom rom बनाई गई है ताकि जब आपका मन करे तब आप नया software डाल कर enjoy कर पाए,

 जिस तरीके से आप रोज रोज एक ही प्रकार का खाना नहीं खा सकते उसी प्रकार आप भी अपने फोन को नया लुक देने की कोशिश करते रहते होंगे लेकिन आज मैं आपको बताऊंगा कि हम Phone के software को कैसे बदले

Phone के software को बदलने से पहले मैं कुछ बातें शेयर करना चाहता हूं जो कि आपको जानना बहुत ही जरूरी है जो हमारा फोन आता है और उसके अंदर जो software आता है वहां पर एक Lock लगा रहता है सभी फोन के अंदर जिसे हम Bootloader कहते हैं, सबसे पहले उस bootloader को unlock करना पड़ता है, और हम computer से एक बार unlock करना होगा उसके बाद ही हम phone के software को बदल सकते हैं, phone के bootloader को unlock करने के बाद हमें computer से ही custom recovery डालनी होगी, अलग-अलग फोन के लिए अलग-अलग custom recovery आती है आपको google पर सर्च करना है अपने फोन का मॉडल और लिखना है और download करना है custom recovery  example -: Custom Recovery Asus Max Pro M1 यह सारा काम करना होगा आपको एक बार कंप्यूटर की आवश्यकता पड़ने वाली है, यह कार्य करने के बाद आपको जरूरत पड़ेगी custom rom की तो आपको उस फाइल को download करना होगा, मान लीजिए कि आपका मोबाइल Redmi note 5 है और उसके लिए आपको custom rom चाहिए है क्योंकि अलग-अलग मोबाइल के लिए अलग-अलग custom बनाई जाती है उसे हमें डाउनलोड करना पड़ता है

1- Unlock Bootloader from Computer help of youtube

2- download Custom recovery & flash in phone from computer,

3- download custom rom for your device,

4- boot to recovery,

5- wipe - dalvic, cache, data, system & vendor

6- & than Flash Your Custom Rom,

7- reboot & enjoy your new Phone!

custom recovery का सबसे ज्यादा महत्वपूर्ण योगदान है क्योंकि विना custom recovery के आप Custom rom को फ्लैश नहीं कर सकते हैं इसलिए हम बात करते हैं custom recovery के बारे में,

तो जो आपको फोन रहता है उसके अंदर एक recovery आती है जो कंपनी की होती है उस कंपनी की recovery के साथ आप custom rom नहीं डाल सकते हैं, इसलिए जरूरत पड़ती है custom recovery की, custom recovery अलग-अलग फोन के लिए बनाई गई है और उस फ़ाइल को हमें डाउनलोड करना पड़ता है और उस recovery को वही हमें डालना पड़ता है अपने फोन में,

bootloader एक ऐसा लॉक है जिसे हर कंपनी लगाकर फोन को भेजती है क्योंकि कि जब तक यह lock, unlock ना किया जाए तब तक हमारे फोन में कोई भी प्रकार की अटैकिंग नहीं कर सकता है यह अटैकर की अटैक से बचाने के लिए इस लोक को लगाया जाता है, किसी को हम bootloader lock भी कहते हैं

जो Rom रहती है वह Official Company कि रहती है मतलब कि कंपनी के द्वारा बनाई होती है लेकिन जो custom Rom रहती है उसके लिए हमें अपने मोबाइल फोन को Unlock करना पड़ता है सभी फोन के अंदर एक लॉक लगा रहता है जिसे bootloader कहते हैं

bootloader एक ऐसा लॉक है जिसे हर कंपनी लगाकर फोन को भेजती है क्योंकि कि जब तक यह lock, unlock ना किया जाए तब तक हमारे फोन में कोई भी प्रकार की अटैकिंग नहीं कर सकता है यह अटैकर की अटैक से बचाने के लिए इस लोक को लगाया जाता है, किसी को हम bootloader lock भी कहते हैं,