Internet कैसे चलता है Tower से, Satellite से या Cable से ?

Internet कैसे चलता है
Internet कैसे चलता है

Internet कैसे चलता है Tower से, Satellite से या Cable से

दोस्तों क्या आप जानते हैं कि internet आखिर internet काम कैसे करता है ? या आपके दिमाग में कई बार आया होगा कि internet टावर से चलता है, सेटेलाइट से चलता है,

या केवल से चलता है यह तीन विकल्प आते होंगे हमारे दिमाग़ मे, उससे पहले आपको internet के बारे मे जानना पड़ेगा कि internet क्या है ? जानने के लिए यहाँ click करे

क्योंकि इन्हीं तीनों को हमने देखा है हमारे आसपास के शहर में, गांव में Tower लगा रहता है या फिर आपने Cable का नाम भी सुना होगा और Satellite के नाम को भी आपने सुना होगा,

 दोस्तों हम सभी internet उपयोग करते ही हैं और आज का युग internet का युग है बिना internet के 1 मिनट भी नहीं रह पाते हैं और बिना internet के हमारा कोई भी काम नहीं होता है,

कंप्यूटर में, मोबाइल में और हॉस्पिटल में सभी जगह पर बिना internet के कोई भी काम नहीं हो रहा है क्योंकि सभी लोग internet से जुड़े हुए हैं और बिना internet के हमारा फोन किसी काम का नहीं है,

तो जब तक हमारे फोन में या कंप्यूटर में internet नहीं होगा तब तक हम इस दुनिया से नहीं जुड़ पाएंगे तो अब सवाल यह आता है कि आखिर internet चलता कैसे है ?

क्या Tower से इंटरनेट चलता है, Satellite से internet चलता है या Cable से इसका जवाब आज मैं गहराई में देने वाला हूं, आइए समझते हैं कि internet कैसे चलता है.

क्या internet satellite से चलता है ?

 दोस्तों आपके दिमाग में आता होगा कि हमारा internet है वह सेटेलाइट से चलता है इसका उत्तर है नहीं हमारा इंटरनेट अभी सेटेलाइट से नहीं चलता है क्योंकि इंटरनेट अगर हम सेटेलाइट से चलाएंगे तो सबसे पहले तो हमें बहुत ज्यादा खर्चा लगेगा, और इंटरनेट की स्पीड भी बहुत कम होगी,

अब आपके यहां पर प्रश्न आएगा कि Satellite से internet क्यों नहीं चलेगा ? तो मे आपको बता दूं कि Satellite से internet चलाना बहुत ज्यादा मुश्किल है,

क्योंकि धरती से सेटेलाइट की दूरी करीब 36,000 किलोमीटर है, और अगर हम धरती से Satellite Connection जोड़ेंगे तो कनेक्शन जोड़ने में ही काफी समय लगेगा,

और उसके बाद अगर हम डाटा प्रवाहित भी करेंगे तो रुकावट बहुत ज्यादा होने वाली है क्योंकि बीच में Repeater नहीं लगा है, Repeater का काम भी यह होता है कि जिस गति से वह Signal आ रहा है उसी गति से आगे की ओर Signal को भेज देना,

तो अब हमें Satellite से internet चलाने मैं बहुत ज्यादा समस्या होगी सबसे पहली समस्या तो यह होगी कि Satellite से धरती की दूरी 36000 किलोमीटर है अगर हम कोई वीडियो या इंटरनेट को एक्सेस करने की कोशिश भी करेंगे तो बहुत ज्यादा समय लगेगा और ऊर्जा भी बहुत ज्यादा खपत होगी,

इस कारण से Satellite से internet नहीं चलाया जा सकता है हालांकि अभी तक अगर बात करें Satellite से इंटरनेट चलाने की तो इतना सक्षम अभी सिर्फ Jio ही है Jio ऐसा काम कर सकता है लेकिन भले ही यह काम सबसे पहले Jio करे समस्या का सामना तो करना ही पड़ेगा, इस कारण से Satellite से internet नहीं चलाया जा सकता है.

तो अब दिमाग में प्रश्न आ रहा है होगा क्या आखरी इंटरनेट चल कैसे रहा है ?

क्या internet Tower से चलता है ?

 दोस्तों हम सभी लोग सोचते हैं कि हमारा internet Tower से चल रहा है क्योंकि Tower सभी जगह लगे होते हैं यह बात भी पूर्णता सही नहीं है यह बात भी आधी ही सही है इसको हम पूर्णता सही नहीं बोल सकते, अब आपके दिमाग में प्रश्न आ रहा होगा कि यह बात सही क्यों नहीं है कि internet, Tower से चल नहीं रहा है,

 दोस्तों आपका जो internet है वह Tower से ही चलता है लेकिन आपका जो Tower है वह सिग्नल को भेजने का काम भी करता है और सिग्नल प्राप्त करने का काम भी करता है,

Tower सिर्फ इसलिए लगाए जाते हैं क्योंकि अधिक से अधिक लोग उस Tower से कनेक्ट हो सके और internet एक साथ सभी चला सके और हमारा मोबाइल फोन भी Tower से ही जुड़ा रहता है,

लेकिन वह Tower भी Cable से जुड़ा रहता है हमारा फोन तरंगों के माध्यम से tower से जुडा रहता है लेकिन जो Tower है वह भी Cable से जुडा होता है, और जितने भी Tower होते है वो कहीं ना कहीं Cable से ही जुड़े होते है,

इसलिए हम कह सकते हैं कि हमारा internet सीधा Tower से नहीं चलता है, सभी Towers कहीं ना कहीं Optical Fiber Cable से ही जुड़े होते है.

क्या internet Cable से चलता है ?

 अब दोस्तों आपके दिमाग में प्रश्न आ रहा होगा कि क्या जो internet है वह Cable से चलता है इसका उत्तर है जी हां आपका जो internet है यह Cable से ही चलता है पूरी दुनिया में चाहे अमेरिका हो चाहे कोई सा भी देश हो सभी देश Optical Fiber Cable से ही जुड़े हुए हैं जो कि समुद्र में डली हुई हैं,

दुनिया का पूरा internet इन Optical Fiber Cable के द्वारा ही चलता है सबसे पहले तो पूरी दुनिया में इन Optical Fiber Cable को विछाया गया है अब चाहे वहां पर समुद्र हो या फिर पहाड़ सभी जगह पर Optical Fiber Cable को विछाया गया है,

इसके बाद आता है काम Tower, ऑप्टिकल फाइबर केबल को Tower से कनेक्ट कर दिया जाता है और कई सारे लोगों का मोबाइल इंटरनेट काम करना शुरू कर देता है अब अगर हम एक एक घर में Optical Fiber Cable को भेजेंगे तो बहुत ज्यादा खर्चा भी होगा और जो परेशानी होगी,

और एक परेशानी यह होगी कि जब भी हम कहीं Travel करेंगे, घूमने जाएंगे तो हमारा इंटरनेट काम नहीं करेगा क्योंकि हम सभी जगह उस Cable को लेकर नहीं घूम सकते इसलिए Tower की जरूरत पड़ती है सभी Towers को Optical Fiber Cable से जोड़ दिया जाता है,

या फिर एक Tower दूसरे टावर से जुड़ा होता है और वह दूसरा टावर है Optical Fiber Cable से जुड़ा होता है इस कारण से हमारा इंटरनेट पूरा Optical Fiber Cable से ही चलता है.

क्या Tower भी आपस मे Connect रहते है ?

 दोस्तों अब आपकी दिमाग में शायद एक सवाल और आ रहा होगा कि जो Tower लगे रहते हैं क्या वह आपस में कनेक्ट रहते हैं या आपस में जुड़े होते हैं तो इसका उत्तर है जी हां यह जो Tower लगे होते है वह आपस में जुड़े रहते हैं, एक टावर करीब 70 किलोमीटर दूर स्थित किसी दूसरे Tower से जुड़ सकता है,

 जैसे कि अगर गांव के अंदर Optical Fiber Cable नहीं विछी है, तो वहां पर जब भी कोई Tower लगेगा तो वह Tower किसी शहर के Tower से जुड़ा रहेगा और वह शहर का Tower Optical Fiber Cable से जुड़ा रहेगा, तो इस तरीके से सारे टावर एक दूसरे से जुड़े होते हैं और इसी तरीके से हम सभी का इंटरनेट और Call हो पाती है.

अब आखिर Internet कैसे चलता है Conclusion

 अब मैं आपको बताऊं कि हमारा जो मोबाइल फोन है वह जुड़ा रहता है Tower के तरंगों के माध्यम से, इसके बाद जो आपका Tower है वह हो सकता है कि जुड़ा हो किसी दूसरे टावर से अगर वहां पर Optical Fiber Cable नहीं है तो, अगर वहां पर Optical Fiber Cable नहीं है तो आपके गांव का Tower किसी दूसरे शहर के Tower से जुड़ा होगा,,

और जो शहर का Tower है वह जुड़ा है Optical Fiber Cable से, इसी तरीके से हमारे पूरे देश में Tower लगे हुए हैं और Optical Fiber Cable भी बिछी हुई है यह Optical Fiber Cable पूरी दुनिया में बिछी है हर देश में, और Optical Fiber Cable से हमारा इंटरनेट चल पाता है,

Optical Fiber Cable क्या है ?

अब आपके दिमाग में एक और सवाल आ रहा होगा कि यह Optical Fiber Cable क्या है ? और Optical Fiber Cable तो बहुत छोटी है,

लेकिन जो उपयोगकर्ता है वह बहुत सारे हैं, तो internet कैसे serve कर रहा होगा ? इसका उत्तर है कि Optical Fiber Cable एक नहीं विछी है बहुत सारी विछी हुई है,

दूसरी बात यह है कि जो Optical Fiber Cable है उसके एक केबल से अंदर कई तारे wire रहते है, और उन wires में से एक wire से लगभग 1000GB/s की स्पीड को भेजा जा सकता है, तो आप समझ सकते हैं कि इस ऑप्टिकल फाइबर केबल की स्पीड कितनी ज्यादा है,

इस Optical Fiber Cable की स्पीड है वह बहुत ज्यादा तेज होती है और सेकेंड के अंदर आपका डाटा यहां से वहां हो जाता है जो कि आप भी देख पा रहे होंगे, जो Router है या Jio Fiber है वह भी आपकी Optical Fiber Cable से जुड़े होते हैं इसी कारण से आपकी जो स्पीड है वह 100mb से लेकर 1GB/s तक होती है

Internet चलने कि Process क्या है ?

 उदाहरण के तौर पर अगर हम बात करें Google की तो जब भी आप Google को खोलते हैं तो सबसे पहले आपकी रिक्वेस्ट जाती है तरंगों के माध्यम से Tower में जाती है,

Tower के माध्यम से Optical Fiber Cable में जाती है, Optical Fiber Cable के बाद वह जुडी होती है Google के डाटा सेंटर से, Google के डाटा सेंटर मे वह रिक्वेस्ट जाती है,

उसके वाद Google उसको verify करने के बाद Access दे देता है और आपके Phone मे Google खुल जाता है यह प्रोसेस इतनी जल्दी होती है कि मुझे तो बताने में टाइम लग रहा है,

लेकिन इसको होने में milisecond लगता है, इतनी ज्यादा अधिक शक्तिशाली है Optical Fiber Cable, इसी तरीके से हमारे internet काम करता है.

Internet कैसे चलता है Tower से Satellite से

इसे भी पड़े –

Browser क्या है ? कितने प्रकार के होते है ? पूरी जानकारी

Internet kya hai internet kaise kaam karta hai

 

Internet चलने कि Process क्या है ? FAQs

हमारे फोन में या कंप्यूटर में internet नहीं होगा तब तक हम इस दुनिया से नहीं जुड़ पाएंगे तो अब सवाल यह आता है कि आखिर internet चलता कैसे है ? क्या Tower से इंटरनेट चलता है, Satellite से internet चलता है या Cable से इसका जवाब आज मैं गहराई में देने वाला हूं, आइए समझते हैं कि internet कैसे चलता है.

आपके दिमाग में आता होगा कि हमारा internet है वह सेटेलाइट से चलता है इसका उत्तर है नहीं हमारा इंटरनेट अभी सेटेलाइट से नहीं चलता है क्योंकि इंटरनेट अगर हम सेटेलाइट से चलाएंगे तो सबसे पहले तो हमें बहुत ज्यादा खर्चा लगेगा, और इंटरनेट की स्पीड भी बहुत कम होगी,

अब आपके यहां पर प्रश्न आएगा कि Satellite से internet क्यों नहीं चलेगा ? तो मे आपको बता दूं कि Satellite से internet चलाना बहुत ज्यादा मुश्किल है क्योंकि धरती से सेटेलाइट की दूरी करीब 36,000 किलोमीटर है, और अगर हम धरती से Satellite Connection जोड़ेंगे तो कनेक्शन जोड़ने में ही काफी समय लगेगा

दोस्तों हम सभी लोग सोचते हैं कि हमारा internet Tower से चल रहा है क्योंकि Tower सभी जगह लगे होते हैं यह बात भी पूर्णता सही नहीं है यह बात भी आधी ही सही है इसको हम पूर्णता सही नहीं बोल सकते, अब आपके दिमाग में प्रश्न आ रहा होगा कि यह बात सही क्यों नहीं है कि internet, Tower से चल नहीं रहा है,

 दोस्तों आपका जो internet है वह Tower से ही चलता है लेकिन आपका जो Tower है वह सिग्नल को भेजने का काम भी करता है और सिग्नल प्राप्त करने का काम भी करता है Tower सिर्फ इसलिए लगाए जाते हैं क्योंकि अधिक से अधिक लोग उस Tower से कनेक्ट हो सके और हमारा मोबाइल फोन भी Tower से ही जुड़ा रहता है, लेकिन वह Tower भी Cable से जुड़ा रहता है

अब दोस्तों आपके दिमाग में प्रश्न आ रहा होगा कि क्या जो internet है वह Cable से चलता है इसका उत्तर है जी हां आपका जो internet है यह Cable से ही चलता है पूरी दुनिया में चाहे अमेरिका हो चाहे कोई सा भी देश हो सभी देश Optical Fiber Cable से ही जुड़े हुए हैं जो कि समुद्र में डली हुई हैं,

दुनिया का पूरा internet इन Optical Fiber Cable के द्वारा ही चलता है सबसे पहले तो पूरी दुनिया में इन Optical Fiber Cable को विछाया गया है अब चाहे वहां पर समुद्र हो या फिर पहाड़ सभी जगह पर Optical Fiber Cable को विछाया गया है,

दोस्तों अब आपकी दिमाग में शायद एक सवाल और आ रहा होगा कि जो Tower लगे रहते हैं क्या वह आपस में कनेक्ट रहते हैं या आपस में जुड़े होते हैं तो इसका उत्तर है जी हां यह जो Tower लगे होते है वह आपस में जुड़े रहते हैं, एक टावर करीब 70 किलोमीटर दूर स्थित किसी दूसरे Tower से जुड़ सकता है,

अब मैं आपको बताऊं कि हमारा जो मोबाइल फोन है वह जुड़ा रहता है Tower के तरंगों के माध्यम से, इसके बाद जो आपका Tower है वह हो सकता है कि जुड़ा हो किसी दूसरे टावर से अगर वहां पर Optical Fiber Cable नहीं है तो, अगर वहां पर Optical Fiber Cable नहीं है तो आपके गांव का Tower किसी दूसरे शहर के Tower से जुड़ा होगा, और जो शहर का tower है वो Cable से जुडा रहता है.

Optical Fiber Cable क्या है ? और Optical Fiber Cable तो बहुत छोटी है लेकिन जो उपयोगकर्ता है वह बहुत सारे हैं, तो internet कैसे serve कर रहा होगा ? इसका उत्तर है कि Optical Fiber Cable एक नहीं विछी है बहुत सारी विछी हुई है,

दूसरी बात यह है कि जो Optical Fiber Cable है उसके एक केबल से अंदर कई तारे wire रहते है, और उन wires में से एक wire से लगभग 1000GB/s की स्पीड को भेजा जा सकता है, तो आप समझ सकते हैं कि इस ऑप्टिकल फाइबर केबल की स्पीड कितनी ज्यादा है.

उदाहरण के तौर पर अगर हम बात करें Google की तो जब भी आप Google को खोलते हैं तो सबसे पहले आपकी रिक्वेस्ट जाती है तरंगों के माध्यम से Tower में जाती है Tower के माध्यम से Optical Fiber Cable में जाती है, Optical Fiber Cable के बाद वह जुडी होती है Google के डाटा सेंटर से, Google के डाटा सेंटर मे वह रिक्वेस्ट जाती है,

 

उसके वाद Google उसको verify करने के बाद Access दे देता है और आपके Phone मे Google खुल जाता है यह प्रोसेस इतनी जल्दी होती है कि मुझे तो बताने में टाइम लग रहा है लेकिन इसको होने में milisecond लगता है, इतनी ज्यादा अधिक शक्तिशाली है Optical Fiber Cable, इसी तरीके से हमारे internet काम करता है.

©emka.news

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here