IND VS BAN: टीम इंडिया को बेहतर विकेटकीपर की जरूरत, राहुल जैसे विकल्प की नहीं, बड़ी कमी नजर आई सामने

IND VS BAN-टीम इंडिया को बेहतर विकेटकीपर की जरूरत, राहुल जैसे विकल्प की नहीं, बड़ी कमी नजर आई सामने

IND vs BAN ODI Series 

 टीम इंडिया (Team India) की शुरुआत बांग्लादेश के खिलाफ वनडे सीरीज में वहुत ही खराब रही है। पहले मैच में भारतीय टीम को एक विकेट से हार मिली। केएल राहुल (KL Rahul) ने अंतिम समय पर मेहदी हसन का आसान कैच छोड़ना।

 यही इस मैच का मुख्य प्वाइंट भी रहा। ऋषभ पंत चोट के कारण हो चुके हैं बाहर। विकेटकीपर ईशान किशन हैं टीम के साथ। केएल राहुल (KL Rahul) को बांग्लादेश के खिलाफ पहले वनडे में विकेटकीपर का मौका दिया गया।

 टीम इंडिया (Team India) को इस मैच में एक विकेट से हार मिली। मैच का (IND vs BAN) मुख्य प्वाइंट राहुल का कैच छोड़ना रहा उन्होंने मेहदी हसन का आसान कैच छोड़ दिया था। इसके बाद उन्होंने नाबाद 38 रन बनावा कर बांग्लादेश को रोमांचक जीत दिलाई। मैच में राहुल विकेटकीपर रुप में खेल रहे थे।

मैच में भारतीय टीम पहले खेलते हुए सिर्फ 186 रन का ही लक्ष्य बना सकी थी। बांग्लादेश ने लक्ष्य को 46 ओवर में 9 विकेट गवाकर पूरा कर लिया। मेहदी और मुस्तफिजुर रहमान ने अंतिम विकेट के रुप में नाबाद अर्धशतकीय साझेदारी की थी।

 3 मैचों की सीरीज का अगला दूसरा मुकाबला 7 दिसंबर बुधवार को खेला जायेगा। केएल राहुल को वनडे में मिडिल ऑर्डर में मौका दिया जा रहा है। उनका यहां अच्छा प्रदर्शन रहा है। लेकिन पहले वनडे में रेगुलर विकेटकीपर ईशान किशन के होते हुये भी उन्हें उस तौर विकेट कीपिंग की जिम्मेदारी दी गई।

 टीम इंडिया के कोच राहुल द्रविड़ भी लंबे समय तक भारतीय टीम में विकेट कीपर की भूमिका निभाई। लेकिन केएल राहुल ने जिस तरह से अहम मौके पर मेहदी का कैच छोड़ाना , यह टीम के लिए बड़े मैच या बड़े टूर्नामेंट में बहुत ही नुकसानदायक हो सकता है।

इंडिया टीम को विकल्प खोजने की जरूरत

ऋषभ पंंत लगातार टीम इंडिया की ओर से वनडे और टी20 में विकेटकीपर रुप में खेल रहे हैं। बांग्लादेश के खिलाफ मैच होने से पहले कुछ घंटे पहले वे चोटिल होने के कारण बाहर हो गये। हालांकि पिछले कुछ समय से उनके प्रदर्शन पर भी कई सवाल उठ रहे हैं। इस समय विकेटकीपर ईशान किशन टीम के साथ हैं, उनका प्रदर्शन भी ठीक ठाक है।

IND VS BAN
IND VS BAN

इसके अलावा संजू सैमसन को टीम में लगातार लंबे समय से मौके दिये जाने की बात होती रही है। हालांकि राहुल कह रहे हैं। कि वे खुद को बेहतर विकेटकीपर समान तैयार कर रहे हैं। टीम मैनेजमेंट उनसे बेहतर विकेट कीपर रोल चाह रहा है।

द्रविड़ ने 73 वनडे में कीपरिंग की

टीम इंडिया के पूर्व कप्तान राहुल द्रविड़ ने 1999 से 2004 के बीच 73 वनडे मैचों में विकेट कीपरिंग की है। वे भी कई बार अहम मौके पर विकेट के पीछे अच्छा प्रदर्शन नहीं कर पाये। उस समय उन्होंने बल्ले से 44 की औसत से 2300 रन बनाये।

4 शतक और 14 अर्धशतक लगाये है। वहीं राहुल अब तक विकेटकीपर रुप में 10 वनडे खेल चुके हैं। राहुल ने 66 की औसत से 531 रन बनाये हैं एक शतक और 5 अर्धशतक लगाये है।

पंत, सैमसन या ईशान

अब ये सवाल उठ रहा है कि वनडे टीम में इस तौर पर विकेटकीपर का किसे मौका दिया जाना चाहिये। ऋषभ पंत ने विकेटकीपर तौर पर अब तक 23 वनडे खेले हैं और 37 रन की औसत से कुल 708 रन बनाये हैं। एक शतक और 5 अर्धशतक लगाये है।

 वहीं संजू सैमसन की बात की जाये तो संजू सैमसन 10 मैच में 74 की औसत से कुल 294 रन बनाये हैं। 2 अर्धशतक लगाये है। वहीं ईशान किशन को वनडे में विकेटकीपर के तौर पर सिर्फ 2 ही मैच में मौका दिया गया है।

उन्होंने 30 की औसत से कुल 60 रन बनाये है। 46 रन की सबसे बड़ी पारी रही है।  ऐसे में टीम मैनेजमेंट को तय करना है कि वे इन 3 में से अगले साल होने वाले वनडे वर्ल्ड कप के लिए किसे तैयार करना चाहते है।

Also Read :-

APPLE और AMAZON: की ‘हां’ से ट्विटर को बड़ी राहत एलन मस्क कहा दूर हुई गलत फहमियां मिलेंगे विज्ञापन

सेमीकंडक्टर चिप से भारत करेगा चीन को चित: वेदांता और फॉक्सकॉन गुजरात में लगाएंगी देश का 1st सेमी कंडक्टर सयंत्र 

Leave a Comment