DIGITAL E-RUPEE क्या है ? फायदे, उपयोग पूरी जानकारी 2023

DIGITAL E-RUPEE क्या है ? उपयोग पूरी जानकारी 2023

एप से Digital E-Rupee का उपयोग करना कितना है सुरक्षित, जानिए क्या कहते हैं एक्सपर्ट

डिजिटल रुपये के लॉन्च होते ही लोगों के मन में कई प्रकार के सवाल उत्पन्न हो रहे हैं। जिनमें सबसे महत्वपूर्ण सवाल यह है कि क्या एप के द्वारा  Digital Rupee का उपयोग करना सुरक्षित है? अगर आपके मन में भी इस प्रकार का ऐसा कोई भी सवाल है तो चलिए जानते हैं कि विशेषज्ञयों का इस पर क्या सुझाव है।

E-Rupee लाने का उदेश्य 

CBDC केंद्रीय बैंक द्वारा जारी किए गये मुद्रा नोटों का कागज रहित एक डिजिटल रूप है। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण (Nirmala Sitharaman) ने आम बजट में वित्त वर्ष 2022-23 से ब्लॉक चेन (Block Chain) आधारित डिजिटल रुपया को लॉन्च करने की घोषणा की थी

 कुछ बीते दिनों के पहले केंद्रीय बैंक की ओर से कहा गया था कि RBI डिजिटल रुपया का उद्देश्य मुद्रा के मौजूद रूपों को बदलने के बजाय डिजिटल करेंसी को उनका उपयोग कर्ता बनाना और उपयोगकर्ताओं को भुगतान के लिए एक अतिरिक्त विकल्प मिल सकेगा। 

ई रुपया (e-Rupee)

भारतीय रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (RBI) ने डिजिटल रुपया ई रुपया (e-Rupee) को लॉन्च कर दिया है। जो रिटेलर डिजिटल करेंसी के लिए पहला अहम प्रोजेक्ट है। डिजिटल रुपये के लॉन्च होते ही लोगों के मन में कई प्रकार के सवाल उत्पन्न हो रहे हैं। 

जिनमें सबसे महत्वपूर्ण सवाल यह है कि क्या एप द्वारा  Digital Rupee का उपयोग करना सुरक्षित है? अगर आपके मन में भी इस प्रकार का कोई भी ऐसा कोई सवाल है तो चलिए जानते हैं कि विशेषज्ञयों का इस पर क्या सुझाव है।

आप को बता दें कि 1 दिसंबर से देश के बड़े चार शहरों में ई रुपी ( e-Rupee) का ट्रायल शुरू कर दिया गया है। रिटेल ई रुपी के ट्रायल के लिए पहले चरण में चार बड़े शहरों में नई दिल्ली, मुंबई,बेंगलुरू और भुवनेश्वर में जारी किया गया है।

 इस ट्रायल के दूसरे चरण में नये 9 और शहरों को जोड़ा जायेगा। पहले ट्रायल के लिए कुछ चयनित प्रमुख बैंकों एसबीआई, यस बैंक,आईसीआईसीआई और आईडीएफसी बैंक को चयनित किया गया है।

DIGITAL E-RUPEE क्या है
DIGITAL E-RUPEE क्या है

जानिए क्या कहते हैं एक्सपर्ट

IDFC फर्स्ट बैंक के एम बालाकृष्णन ने Digital Rupee के बारे में बताया कि ग्राहकों को बैंक की तरफ से लिंक के द्वारा डिजिटल रूपी वॉलेट बनाया जायेगा। जिसे वो अपने फोन पर इंस्टॉल कर उसका उपयोग कर सकते हैं।

 आप अपने बैंक अकाउंट से पैसे को इस डिजिटल रूपी वॉलेट में ट्रांसफर कर सकते हैं। उन्होंने कहा कि एप के द्वारा डिजिटल रुपये का उपयोग करना काफी हद तक ग्लीच फ्री है। इस डिजिटल रूपी के द्वारा लेनदेन करना बहुत ही आसान है।

यस बैंक के राजन के अनुसार, फिलहाल इसकी सुविधा अभी सिर्फ ग्रुप में शामिल होने वाले ग्राहकों और व्यापारी को मिलेगी। आप आसानी से अपने वॉलेट से पैसे निकाल कर वापिस अपने बैंक खाते में डाल सकते हैं। CBDC ब्लॉक चेन तकनिकी पर आधारित होगा।

पेपर करेंसी की  समान ही इसका लीगल टेंडर होगा। आप डिजिटल वॉलेट के द्वारा पर्सन टू पर्सन (P2P) या फिर पर्सन टू मर्चेट के बीच इससे ट्रांजैक्शन किया जा सकेगा। साथ ही QR कोड स्कैन (QR Code Scan) करके भी इसके द्वारा पेमेंट की जा सकेगी। Qr code scan करके एक वॉलेट से दूसरे वॉलेट में पैसे भेजना बहुत ही आसान एवं सुलभ है

मोबाइल से Aadhar Card | Pan Card | Voter Id Card को Download कैसे करें

Sbi Prepaid card क्या है, प्रकार apply, complaints पूरी जानकारी 2023

नोट और सिक्कों का है डिजिटल या इलेक्ट्रॉनिक रुप 

केंद्रीय बैंक द्वारा इसे उसी मूल्य पर निर्धारित कर जारी किया जायेगा, जिस निर्धारित मूल्य पर वर्तमान में रिजर्व बैंक ऑफ़ इंडिया करेंसी नोट छापने का करती है। यानी अगर आसान एवं सरल भाषा में समझे तो ये नोट और सिक्कों का डिजिटल या इलेक्ट्रॉनिक रूप है।

रिजर्व बैंक ऑफ़ इंडिया ने डिजिटल रुपये की पेशकश के लिए पहली पायलट परियोजना  नयी दिल्ली, मुंबई,बेंगलुरु और भुवनेश्वर में शुरू किया है। पायलट प्रोजेक्ट के लिए 4 बैंकों को चयनित किया गया है जिसमें भारतीय स्टेट बैंक, यस बैंक,आईसीआईसीआई बैंक और आईडीएफसी फर्स्ट बैंक आदि प्रमुख रुप से शामिल हैं।

DIGITAL E-RUPEE क्या है ? फायदे, उपयोग पूरी जानकारी
DIGITAL E-RUPEE क्या है ? फायदे, उपयोग पूरी जानकारी

 E-Rupee के बड़े फायदे

E-Rupee डिजिटल अर्थव्यवस्था को मजबूत बनाने में मददगार सावित हो सकता है। लोगों को जेब में कैश लेकर कही आने जाने की जरूरत नहीं रहेगी। मोबाइल वॉलेट के समान ही इससे पेमेंट करने में बहुत सुविधा होगी। डिजिटल रुपया को बैंक मनी और कैश में आसानी से बदलाव कर सकेंगे।

इसके द्वारा विदेशों में पैसे भेजने की अधिक लागत में कमी आयेगी। ई- रुपया बिना इंटरनेट कनेक्शन की जरुरत नहीं रहेगी यह बिना इंटरनेट कनेक्शन के काम करेगा। ई-रूपी की वैल्यू भी मौजूद पेपर बाली करेंसी के बराबर ही होगी।

आरबीआई की डिजिटल करेंसी  E-Rupee के नुकसान के बारे में बात करें तो इसका एक बड़ा नुकसान ये हो सकता है कि इससे कैश पैसों के लेन-देन से संबंधित प्राइवेसी लगभग खत्म हो जायेगी आमतौर पर कैश में लेन-देन करने से लोगो की पहचान गुप्त रहती है, लेकिन डिजिटल ट्रांजैक्शन पर सरकार की नजर बनी रहेगी।

इसके अलावा ई-रुपया वॉलेट में कोई ब्याज भी नहीं मिलेगा। RBI की मानें तो अगर डिजिटल रुपया पर ब्याज दिया ये करेंसी मार्केट में अस्थिरता ला सकती है। इसकी वजह यह है कि लोग अपने बचत खाता से पैसे निकालकर उसे डिजिटल करेंसी में बदलना शुरू कर देंगे।

DIGITAL E-RUPEE क्या है ? फायदे, उपयोग पूरी जानकारी

E-Rupee डिजिटल अर्थव्यवस्था को मजबूत बनाने में मददगार सावित हो सकता है। लोगों को जेब में कैश लेकर कही आने जाने की जरूरत नहीं रहेगी। मोबाइल वॉलेट के समान ही इससे पेमेंट करने में बहुत सुविधा होगी। डिजिटल रुपया को बैंक मनी और कैश में आसानी से बदलाव कर सकेंगे।

Leave a Comment